scriptVyapam scam accused GP Singh arrested | व्यापम घोटाले का मुख्य आरोपी जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार | Patrika News

व्यापम घोटाले का मुख्य आरोपी जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार

व्यापम घोटाले का मुख्य आरोपी डॉ जगदीश सिंह सागर को जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया है।

इंदौर

Published: January 15, 2022 02:02:34 pm

इंदौर. व्यापम घोटाले का मुख्य आरोपी डॉ जगदीश सिंह सागर को जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया है। जीपी सिंह की गिरफ्तारी मध्यप्रदेश के इंदौर एयरपोर्ट से की गई है, बताया जा रहा है इंदौर से ग्वालियर जाने के लिए इंदौर एयरपोर्ट पर चेकिंग के दौरान उनकी गिरफ्तारी हुई है। उनके बैग से जिंदा कारतूस भी मिले हैं, एयरपोर्ट की सुरक्षा टीम द्वारा सिंह को एरोड्रम पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

व्यापम घोटाले का मुख्य आरोपी जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार
व्यापम घोटाले का मुख्य आरोपी जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करने के साथ ही उनके खिलाफ प्रकरण भी दर्ज कर लिया है। जानकारी के अनुसार डॉ. जीपी सिंह सागर को पीएमटी 2013 में सीबीआई ने रैकेटियर के रूप में आरोपी बनाया था। भिंड के गोहद निवासी डॉ. सागर ने 1991 पीएमटी से ग्वालियर मेडिकल कॉलेज में प्रवेश लिया और 2000 में यानी नौ साल में एमबीबीएस किया था। फिर 2004 में इंदौर के एमजीएम में पीजी के लिए प्रवेश लिया, जो चार साल बाद 2008 में पूरा हुआ। व्यापमं घोटाले में इंदौर पुलिस द्वारा प्रकरण दर्ज करने के बाद सागर को क्राइम ब्रांच ने 15 जुलाई 2013 को गिरफ्तार किया था और उनके खिलाफ एसटीएफ ने चार अक्टूबर 2013 में चालान पेश किया था। उसने व्यापम ही नहीं मध्यप्रदेश लोकसेवा आयोग से राज्य सेवा का अफसर बनवाने के लिये भी कई सौदे किए थे। जिसमें 6 पदों के लिए 95 लाख रुपए का सौदा भी एक था।

फैक्ट्री से 450 किलो नकली घी और 50 किलो पनीर जब्त

लसूडिय़ा थाना क्षेत्र में स्थित एक फैक्ट्री में बड़े स्तर पर नकली घी बनाने की सूचना पर शुक्रवार रात पुलिस और खाद्य विभाग ने छापा मार कार्रवाई की। जांच कर रही टीम को बड़ी मात्रा में अमानक घी मिला है, जिसे फैक्ट्री संचालक मशीन से तैयार करवा रहा था।

यह भी पढ़ें : सीबीएसई ने शुरू कर दी ऑनलाइन क्लासेस-एमपी बोर्ड स्कूल संचालक शासन के फैसले से नाराज

टीआइ इंद्रमणि पटेल ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि लसूडिय़ा मोरी में नकली घी की फैक्ट्री का संचालन हो रहा है। मौके पर पहुंची पुलिस और खाद्य विभाग की टीम को जांच में पता चला कि बिल्डिंग में अमूर मिल्क क्लब प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का संचालन रुपेश सोलंकी निवासी शाहपुर बैतूल कर रहा है। जांच में टीम को अमानक स्तर का 450 किलो घी, 50 किलो पनीर के साथ ही लाखों रुपए कीमत की पैकिंग मशीन जब्त की है। जांच में पता चला कि प्रतिमाह आरोपी 10 लाख से ज्यादा कीमत का कच्चा माल मंगवाकर कंपनी में नकली घी और पनीर बना रहा था। खाद्य विभाग की टीम ने सैंपल लिए हैं। रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई करेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022 : अखिलेश के अन्न संकल्प के बाद भाकियू अध्‍यक्ष का यू टर्न, फिर किया सपा-रालोद गठबंधन के समर्थन का ऐलानCoronavirus : भारत में 23 जनवरी को आएगा कोरोना की तीसरी लहर का पीक, IIT कानपुर के प्रोफेसर ने की ये भविष्यवाणीभारत के कोरोना मामलों में आई गिरावट, पर डरा रहा पॉजिटिविटी रेटअरुणाचल प्रदेश में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 4.9 मापी गई तीव्रताभगवंत मान हो सकते हैं पंजाब में AAP के सीएम उम्मीदवार! केजरीवाल आज करेंगे घोषणाप्री-बोर्ड एग्जाम का शेड्यूल जारी, स्टूडेंट्स को इस काम के लिए जाना होगा स्कूलUP Police Recruitment 2022: 10 वीं पास युवाओं को सरकारी नौकरी का मौका, यूपी पुलिस ने निकाली भर्ती, 69,100 रुपये मिलेगी सैलरीOmicron Symptoms: ओमिक्रॉन के ये लक्षण जिसके बारे में आपको भी पता होना चाहिए,जानिए कितने दिनों तक रहते हैं ये शरीर में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.