जलसंकट से परेशान लोगों ने निकाली टैंकर की चाबी, बोले - जब तक पानी नहीं मिलेगा जाने नहीं देंगे

जलसंकट से परेशान लोगों ने निकाली टैंकर की चाबी, बोले - जब तक पानी नहीं मिलेगा जाने नहीं देंगे

Hussain Ali | Publish: May, 19 2019 09:43:37 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

सिलिकॉन सिटी के रहवासियों ने रोका पानी का टैंकर

इंदौर. वार्ड 79 के सिलिकॉन सिटी बी सेक्टर में जलसंकट से त्रस्त रहवासियों ने पानी बांटने आया नगर निगम का टैंकर रोककर अपने कब्जे में ले लिया। टैंकर की चाबी भी रख ली और कहा जब तक सबको पानी नहीं मिलेगा जाने नहीं देंगे।

दरअसल, यहां नर्मदा की लाइन नहीं होने से टैंकर से पानी सप्लाय किया जा रहा है। रहवासी प्रहलाद पांडे का कहना है, टैंकर तो आता है, लेकिन पार्षद के खास लोगों के घरों में पानी देकर चला जाता है। इसकी शिकायत करने पार्षद रेखा ठाकुर के पास भी गए, लेकिन उनके जेठ मनीष ठाकुर ने मिलने नहीं दिया। इसके बाद रहवासी राजेंद्र नगर थाने पहुंचे और लिखित में अपने लोगों को पानी देने और पार्षद के नहीं मिलने की शिकायत की। रहवासी घर पहुंचे तो टैंकर पार्षद के खास लोगों के यहां पानी दे रहा था। अन्य लोगों ने पानी मांगा तो देने से इनकार कर दिया गया। इसके बाद अतुल गर्ग, दुष्यंत गुप्ता, विवेकसिंह, प्रवीण जोशी, प्रवीण मजोका, संदीप शर्मा, दिव्या गुप्ता, शकुंतला गर्ग, वेदव्यास पाठक आदि ने टैंकर रोका और चाबी निकालकर भी अपने पास रख ली। रहवासियों का कहना था, जब तक पार्षद नहीं आती और सभी को पानी देने की बात नहीं कहतीं, तब तक टैंकर को नहीं जाने देंगे। घटना की जानकारी मिलने पर राजेंद्रनगर पुलिस के जवान मौके पर पहुंचे, लेकिन एक तरफ खड़े रहकर तमाशा देखते रहे।

स्कीम 140 में पार्षद कर रहीं पक्षपात

स्कीम 140 व वृंदावन गार्डन कॉलोनी में भी नगर निगम के टैंकर जल वितरण में मनमानी कर रहे हैं। इन दोनों ही कॉलोनियों में भयंकर जलसंकट है। रहवासियों का आरोप है कि क्षेत्रीय पार्षद सुनीता सोलंकी पक्षपात कर रहे हैं। अपने-अपने लोगों के घर पर निगम के टैंकरों से पानी डाला जा रहा है जबकि बाकी के लोग पानी खरीदने को मजबूर हो रहे हैं। रहवासी नितिन सक्सेना, लखनसिंह का कहना है कि पार्षद ने यदि जल वितरण में मनमानी बंद नहीं की तो घेराव किया जाएगा। पार्षद से बात करना चाही लेकिन वे मोबाइल पर उपलब्ध नहीं हो सकीं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned