मौसम का पूर्वानूमान - आने वाले दिनों में छाए रहेंगे छिटपुट बादल, होगी बारिश

18 और 19 फरवरी को पूर्वी मध्यप्रदेश में हल्की वर्षा की संभावना है।

इंदौर : ठंड की विदाई के बाद अब मौसम सामान्य रहेगा और गर्मी बढ़ेगी। मौसम वैज्ञानिक weather forecast today madhya pradesh का पूर्वानूमान है कि आने वाले दिनों में कही-कही छिटपुट बादल छाए रहेंगे। हवा का रुख उत्तर से पूर्वी होने से गर्मी का असर रहेगा। अधिकतम तापमान 30-31 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 14-15 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। हवा का रुख बदलने से पहाड़ों से आने वाली बर्फीली हवाएं थम गई हैं। इस कारण अब दिन और रात का तापमान सामान्य से ऊपर पहुंच गया है। ऐसे में आने वाले दिनों में गर्मी और बढ़ेगी।

18 और 19 फरवरी को बारिश का अनुमान

मौसम विभाग के दैनिक विवरण के अनुसर 24 घंटों के दौरान प्रदेश का मौसम शुष्क रहा। न्यूनतम तापमान भोपाल संभाग के जिलों में काफी गिरने और अन्य संभागों के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ। होशंगाबाद संभाग के जिलों में सामान्य से काफी कम,सागर, इंदौर एवं उज्जैन संभागों के जिलों में सामान्य से कम रहेंगा। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस बैतूल में दर्ज किया गया। 18 और 19 फरवरी को पूर्वी मध्यप्रदेश में हल्की वर्षा की संभावना है।

 

मौसम विभाग के अनुसार

उत्तर-पश्चिमी मप्र के ऊपर बीते रोज बना प्रतिचक्रवात अब राजस्थान और गुजरात के ऊपर पहुंच गया है। इसी कारण के छिटपुट बादल छाए हैं। साथ ही रात का तापमान भी बढ़ गया है। जम्मू और कश्मीर के ऊपर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इसकी तीव्रता ज्यादा नहीं है। इससे पहाड़ों में बर्फबारी की संभावना खत्म हो गई है। साथ ही वातावरण में नमी भी नहीं है। तीन दिन के दौरान सुबह की नमी में आधे से ज्यादा की गिरावट आई है। दिन और रात के तापमान में इजाफा होने से किसानों को गेहूं में सिंचाई करने की सलाह भी दी गई है।

 

ऐसा रहा सात दिनों के मौसम का हाल

दिनांक________अधिकतम________न्यूनतम
15 फरवरी________31.2________12.4
14 फरवरी________30.8________11.6
13 फरवरी________31.2________13.0
12 फरवरी________30.5________13.0
11 फरवरी________28.4________12.7
10 फरवरी________26.0________9.0
09 फरवरी________26.0________9.6

 

गेहूं में सिंचाई करने की सलाह

मौसम विभाग से किसानों मौसम से संबंधित दी गई जानकारी में मौसमी परिस्थितियों को देखते हुए किसान गेहूं में सिंचाई करने की सलाह दी है। आगामी दिनों में साफ और शुष्क मौसम तथा सामान्य तापमान और चना-सरसों में दाना भरने की संभावना को देखते हुए फली खाने वाली इल्लियों व रसचूसक कीट के आक्रमण की संभावना अधिक है। लिहाजा फसल की निगरानी करें और कीट प्रकोप बढऩे पर अनुशंसित दवा की उचित मात्रा का छिडक़ाव करें।

Show More
KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned