पति की इस हरकत से परेशान होकर चौथी मंजिल से कूद गई नवविवाहित, पढ़िए पूरी खबर

आठ डॉक्टरों का इलाज भी दूर नहीं कर पाया तनाव ...

इंदौर. पलासिया थाना क्षेत्र में एक महिला ने बिल्डिंग की चौथी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। उसकी शादी दो साल पहले हुई थी। शादी के तीन माह बाद ससुरालवालों ने मायके भेज दिया था, फिर नहीं ले गए। प्रीति (३०) पति अजय परदेशी गीता नगर स्थित रेनबो अपार्टमेंट के पेंट हाउस में चाचा आरके चौधरी के यहां शुक्रवार दोपहर २.३० बजे चाची अलका से मिलने आई थी।

crime case

कुछ देर बाद चाची चाय बनाने किचन में गईं। इस दौरान प्रीति की चीख सुनकर बाहर आईं तो वह कमरे में नहीं थी। छत पर दीवार के पास कुर्सी व पास ही प्रीति की चप्पल पड़ी थी। नीचे देखा तो प्रीति जमीन पर पड़ी थी। प्रीति का मायका यहां से कुछ दूर ग्रेटर तिरुपति कॉलोनी में है। पिता प्रकाश चौधरी लांड्री चलाते हैं। परिवार में मां शोभा, बहन वंदना, कामिनी, दीपिका व भाई देवेश हैं। बहनों की शादी हो चुकी है।

 

crime case

घटना की जानकारी मिलने पर प्रीति के पिता व भाई यहां पहुंचे। पुलिस ने शव एमवाय अस्पताल भिजवाया। एफएसएल टीम ने भी घटनास्थल पर जांच की। जांचकर्ता एसआई माधवसिंह भदौरिया ने बताया, पति ने प्रीति को तलाक का नोटिस भेजा था, जिससे वह तनाव में थी। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की है।

 

crime case

पति चला गया हांगकांग
चाची अलका ने बताया, प्रीति ने एमकॉम व ब्यूटी पार्लर का कोर्स किया था। उसकी शादी २६ दिसंबर २०१५ को नासिक निवासी अजय से हुई थी। शादी के तीन महीने बाद पति हांगकांग चला गया। वहां वह निजी कंपनी में नौकरी करता है। इसके बाद नहीं लौटा। ससुराल वालों ने प्रीति को मायके भेज दिया। पिता ने कई बार नासिक जाकर बात की, लेकिन वे उसे ले जाने को राजी नहीं हुए। इससे वह तनाव में थी। आठ डॉक्टरों से उसका इलाज कराया। अभी एमवाय अधीक्षक डॉ. वीएस पाल से इलाज चल रहा था। परिजन उसे एक आश्रम में भी तनाव दूर करने ले जाते थे।

crime case
अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned