साहब बचा लो...मेरी डेढ़ माह की बच्ची को मार न दे सास और ननद

साहब बचा लो...मेरी डेढ़ माह की बच्ची को मार न दे सास और ननद

Reena Sharma | Updated: 19 Jun 2019, 01:04:50 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर की जनसुनवाई में डेढ़ माह की बेटी को लेकर पहुंची मां, बोली सास-ननद ने पहले कराई ***** जांच, अब दे रहीं मारने की धमकी

इंदौर. एकता नगर मूसाखेड़ी की नेहा पति सुनील चौहान डेढ़ माह की बच्ची को लेकर मंगलवार को कलेक्टोरेट की जनसुनवाई में पहुंची। उसने अपर कलेक्टर को बताया, सास शकुंतला चौहान और ननद संतोष आशा कार्यकर्ता हैं। दोनों ही एक पद पर हैं। दोनों ने बच्ची के जन्म से पहले परीक्षण कराया।

डॉक्टर ने लडक़ी बताई तो गर्भपात कराने का दबाव डाला। माता-पिता मुझे देवास ले गए। डेढ़ माह पहले बच्ची का जन्म हुआ। सास-ननद हॉस्पिटल पहुंचकर अभद्र भाषा का उपयोग करते हुए बोलीं, हमें बेटी नहीं चाहिए। अब इसे लेकर हमारे घर मत आना। घर आने पर बेटी और मुझे मारने की धमकी दी जा रही है। एसडीएम शाश्वत शर्मा ने आवेदन लेकर महिला थाने भेजा।

बिजली बिल ज्यादा

अधिक राशि के बिजली बिल आने से परेशान कालिंदी गोल्ड सिटी के रहवासियों ने बताया, वहां करीब 150 परिवार हैं। अभी तक बिजली कंपनी ने स्थायी कनेक्शन नहीं दिए। अस्थायी कनेक्शन से हर महीने अधिक बिल देना पड़ रहा है।

 

indore

एक अपर कलेक्टर, दो एसडीएम ने की सुनवाई

अपर कलेक्टर दिनेश जैन, एसडीएम शाश्वत शर्मा और डिप्टी कलेक्टर अंशुल खरे सहित अधिकारियों ने सुनवाई की। आवेदकों की संख्या अधिक होने से जनसुनवाई करीब ढाई बजे तक चली।

रुपए लेकर करवा दी शादी

एरोड्रम क्षेत्र में रहने वाली एक महिला ने पुलिस जनसुनवाई में शिकायत की। उन्होंने बताया, छोटी बहन की पहले पति से तलाक के बाद शाजापुर में शादी करवाई। कुछ दिन बाद बहन के पति ने कहा, शादी के लिए दिए ६० हजार रुपए वापस दो और बहन को ले जाओ, जबकि उन्होंने शादी के लिए कोई पैसा नहीं लिया। प्रकाश व उसके साथी ने रुपए लेकर बहन की शादी करवाई थी, उन पर कार्रवाई की जाए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned