कार पर स्क्रैच देख व्यापारी ने चौकीदार को पीटा, बीचबचाव करने आई पत्नी को मारी लात, गर्भस्थ शिशु की मौत

कार पर स्क्रैच देख व्यापारी ने चौकीदार को पीटा, बीचबचाव करने आई पत्नी को मारी लात, गर्भस्थ शिशु की मौत

Krishnapal Singh Chauhan | Publish: Sep, 05 2018 07:04:04 AM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

- जूनीइंदौर थाना क्षेत्र का मामला
- रात दो बजे नींद से जगाकर चौकीदार को पीटा

 

अपार्टमेंट की पार्किंग में खड़ी कार में स्क्रैच आने की बात पर एक व्यापारी ने इंसानियत की सारी हदें पार कर बिल्डिंग में रहने वाले चौकीदार की देर रात पीटना शुरू कर दिया। चौकीदार पति से हो रही मारपीट देख उनकी गर्भवती पत्नी बीच-बचाव करने पहुंची तो तैश में आकर व्यापारी ने उनके पेट पर लात मार दी। घटना के बाद से ही पूरा परिवार डरा सहमा था। सुबह गर्भवती को अकारण पेट दर्द होने पर परिजन चिंता में पड़ गए। उन्होंने घटना के संबंध में थाने पहुंच सारी बात बताई। वे पत्नी का मेडिकल कराने एमवाय पहुंचे तो जांच में पेट में बच्चे की मौत हो जाने की खबर सुन बेसुध हो गए। पुलिस ने मृत नवजात का पीएम करवाया है। जांच रिपोर्ट आने पर आरोपियों के खिलाफ धाराएं बढ़ाई जाएगी।

टीआइ देवेंद्र कुमार के मुताबिक फरियादी कामता प्रसाद उर्फ अजय पिता गौतम धानुक निवासी वृंदावन अपार्टमेंट, त्रिवेणी नगर की शिकायत पर आरोपी मुकेश पिता बाजारीमल वाधवानी और दीपक पिता मुरलीधर चावला दोनों निवासी वृंदावन अपार्टमेंट के खिलाफ धारा ३२३, २९४, ५०६, ३४ के तहत केस दर्ज किया है। कामत प्रसाद ने बताया कि वे पिछले पांच वर्ष से अपार्टमेंट में चौकीदारी और मेंटेनेंस कार्य देख रहे हैं। यहां वे अपनी पत्नी, ५ साल की बेटी लक्ष्मी, भाई प्रहलाद व अन्य के साथ रहते हैं। उन्होंने बताया, रविवार सुबह सियागंज व्यापारी आरोपी मुकेश की बलेनो कार को साफ करने के बाद पार्किंग में एक स्थान से दूसरे स्थान पर खड़ी कर दी। शाम को व्यापारी ने कार की चाबी मांग ली। इसके बाद आरोपी की पत्नी ने फ्लैट की लाइट बंद हो जाने पर उन्हें बुलाया। वे वहां लाइट सुधार के लिए पहुंचे और वापस आ गए। कामता का आरोप है, तब व्यापारी ने उन्हें विवाद करने की मक सद से वहां बुलाया। रात में वे परिवार के साथ सो गए। रात करीब दो बजे मुकेश ने उन्हें नींद से उठाकर पीटना शुरू कर दिया। उनके साथ अपार्टमेंट में किराए से रहने वाले दीपक ने भी मारपीट शुरू कर दिया। कामता ने बताया, उनकी ८ माह से गर्भवती पत्नी बीच-बचाव करने पहुंची। तब मुकेश ने तैश में आकर उनकी पत्नी के पेट पर लात मार दी। दोनों ने पीटते हुए कई लोगों को वहां बुला लिया। सभी देर तक उन्हें पीटते रहे। घायल होने के बाद उन्होंने थाने पहुंच केस दर्ज कराया। उन्होंने पूरा घटनाक्रम सीसीटीवी कैमरे में कैद होने की बात कही है।

पुलिस पर पीटने का आरोप
चौकीदार कामता ने बताया, आरोपियों ने देररात उन्हें देर तक पीटा। इसके बाद रौब झाड़ते हुए वहां पुलिस को बुला लिया। मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने मामले की समझे बगैर उन्हें पीटना शुरू कर दिया। वे थाने में भी उन्हें पीटते रहे। इसके बाद जब उन्हें घटना के बारे में पता चला तो आरोपी व्यापारी और उसके साथी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

पत्नी का पेट दर्द होते थाने पहुंचे

रात में गर्भवती पत्नी के पेट पर लात पड़ जाने के बाद से ही चौकीदार कामता चिंता में पड़ गए। वे रातभर यही विचार करते रहे की कोई अनहोनी न हो जाए। सोमवार सुबह पत्नी के पेट में तेज दर्द उठने पर वे उसे लेकर थाने पहुंचे। उन्होंने पुलिस को बताया की जिन लोगों ने उनसे रात में मारपीट की उन्होंने पत्नी के पेट पर लात मारी। यह बात सुनते ही टीआई देवेंद्र कुमार ने महिला को उपचार के लिए एमवाय भिजवाया। यहां पुलिस ने गर्भवती का मेडिकल भी कराया। तब सोनोग्राफी में पता चला की बच्चे की पेट में मौत हो चुकी है। डॉक्टर की टीम ने महिला की डिलेवरी कराई और मृत बच्चा बाहर निकाला। पुलिस ने मृत नवजात के शव का पीएम कराया है। इतनी बात कहते हुए कामता दु:खी होकर रोने लगे। वे कहने लगे की जब उनकी पत्नी पहली बार गर्भवती हुई तब उनका बच्चा शांत हो गया। इसके बाद पत्नी ने बेटी को जन्म दिया। पत्नी को गर्भ के आठ माह पूरे हो चुके थे। जिन आरोपियों ने उनकी आने वाली खुशियां छीनी है। पुलिस उन पर सख्त से सख्त कार्रवाई करे।

रिपोर्ट आने पर बढ़ेगी धारा
टीआइ देवेंद्र कुमार का कहना है की शॉर्ट पीएम रिपोर्ट का इंतजार है। रिपोर्ट में बच्चे की मौत की असल वजह का पता चल सकेगा। यदि चोट लगने पर गर्भवती के पेट में पल रहे बच्चे की मौत हुई है, तो दोषियों के खिलाफ धाराएं बढ़ाई जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned