MY HOME की हैवानियत, युवतियों ने कहा - जिस दिन डांस में कम कलेक्शन होता, उस दिन होती थी हमारी पिटाई

  • युवतियों ने कहा - नशे में धुत लोगों की उत्सुकता देख उन्हें आकर्षित करने के लिए कहते
  • नाचने पर एक दिन में 6 से 8 लाख का होता था कलेक्शन, जीतू रखता था 90? राशि

इंदौर. मानव तस्करी, लूट, धोखाधड़ी, जालसाजी जैसे 23 मामलों मं फरार जितेन्द्र उर्फ जीतू सोनी के होटल से रेस्क्यू की गई 67 युवतियों के बयानों में चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। युवतियों ने डरते-सहमते हुए पुलिस को बताया कि होटल में ऐसे भी ग्राहक आते थे जो डांस-गाना सुनने के साथ युवतियों पर एक से डेढ़ लाख रुपए एक दिन में लुटा दिया करते थे। ऐसे में कभी ऐसा होता था कि कलेक्शन कम हुआ तो उस दिन हमारी कमरे में पिटाई की जाती थी।

माय होम की हैवानियत, युवतियों ने कहा - जिस दिन डांस में कम कलेक्शन होता, उस दिन कमरे में होती थी हमारी पिटाई

युवतियों ने बताया होटल में रोजाना करीब 6 से 8 लाख रुपए इक_ा होते थे। संभ्रांत परिवारों के लोग यहां आकर नशे में अपने पसंदीदा गाने बजवाकर डांस करवाते और उन पर नोट उड़ाते थे। इस दौरान बाउंसरों की नजर युवतियों पर रहती थी। वे नशे में धुत लोगों की उत्सुकता देख युवतियों को उन्हें ज्यादा से ज्यादा आकर्षित करने के लिए कहते, ताकि ज्यादा से ज्यादा पैसा मिल सकें। सुबह जब इनके हिस्से की बारी आती थी तो इन्हें कभी 800 तो कभी हजार रुपए ही मिलते थे।

माय होम की हैवानियत, युवतियों ने कहा - जिस दिन डांस में कम कलेक्शन होता, उस दिन कमरे में होती थी हमारी पिटाई

एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र के मुताबिक एक युवती ने कहा कि प्रतिदिन होटल के दो बेसमेंट में चलने वाले 4 डांस बार में डेढ़ से 2 लाख रुपए तो लोग उड़ाकर ही जाते थे। हर फ्लोर पर करीब दो लाख का कलेक्शन होता था। जिस किसी दिन एक डांस बार में पैसे कम आते थे तो उस फ्लोर की युवतियों की पिटाई हो जाती थी। इसी कारण वे काफी डरी-सहमी रहती थीं। कुछ ने तो यह भी बताया कि जो एजेंट कोलकाता से उन्हें यहां नौकरी का बोलकर साथ लाए थे, उन्हें यह तक नहीं बताया था कि यहां उन्हें डांस भी करना है। इंदौर में कोई परिचित न होने के कारण वे बंधुआ मजदूर की तरह रहने को मजबूर थीं।

माय होम की हैवानियत, युवतियों ने कहा - जिस दिन डांस में कम कलेक्शन होता, उस दिन कमरे में होती थी हमारी पिटाई

वीकेंड्स पर ज्यादा कलेक्शन

युवतियों ने ये भी कहा कि प्रतिदिन कम से कम 3 लाख और शनिवार-रविवार या फिर वीवीआईपी ग्राहकों के आने पर 7 से 8 लाख का गल्ला उठता था। यदि 8 लाख रुपए एक दिन में आते तो डांस खत्म होने के बाद 1 लाख रुपए पूरे स्टाफ में बंटते थे। बचे हुए 7 लाख जीतू रखता था।

माय होम पर पत्नियों को जबरन डांस करवाते थे पति, लोग उड़ाते थे रुपए, तो बंटोरते थे पति

अभिरक्षा में ली गई युवतियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया

होटल माय होम से अभिरक्षा में ली गई 67 युवतियों और बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण करवाया गया। इन्हें राऊ स्थित जीवन ज्योति आश्रम संस्था में रखा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिया के आदेश के बाद शुक्रवार देर रात डॉ. अजय गुप्ता, डॉ. कल्पना अंब व तीन नर्सें रात को संस्था पहुंचीं। सभी का परीक्षण कर रात 1 बजे रिपोर्ट अधिकारियों को दी गई।

माय होम पर पत्नियों को जबरन डांस करवाते थे पति, लोग उड़ाते थे रुपए, तो बंटोरते थे पति

जीतू सोनी के पश्चिम बंगाल में होने की सूचना

जिस समय पुलिस ने जीतू सोनी के होटल पर छापा मारा था, तब जीतू होटल में ही मौजूद था। दबिश देने आए अफसरों के पहुंचने के दौरान ही वह भाग निकला। इंदौर के बाद जीतू की देवास और फिर उज्जैन और मुंबई में होने की चर्चा चलती रही। क्राइम ब्रांच व सायबर सेल की टीम को उसकी आखिरी लोकेशन कोलकाता में होने की मिली है। हालांकि पुलिस को अब तक सफलता नहीं मिली है।

रीना शर्मा Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned