15 हजार उधार के बदले चुकाए 3 लाख, जान देने पटरी पर लेट गई महिला, बिलखते बच्चे पहुंचे मां के पास और...

सूदखोर दंपती ने हजार रुपए रोज पेनल्टी ठोंकी

इंदौर. बच्चे की स्कूल फीस जमा करने के लिए महिला ने 15 हजार रुपए शंकर-कृष्णा गौर से उधार लिए। 7 माह के दौरान करीब 3 लाख रुपए चुका दिए। इसके बाद भी सूदखोर दंपती 70 हजार रुपए बकाया बताकर जान से मारने की धमकी देने लगे तो महिला घबराकर जान देने के लिए रेलवे पटरी पर जाकर लेट गई। पुलिस ने सोनूबाई सैनी (35) निवासी भवानी नगर की शिकायत पर गौर दंपती निवासी भवानी नगर के खिलाफ केस दर्जकर गुरुवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

टीआइ बाणगंगा इंद्रमणि पटेल ने बताया, सोनूबाई ने जून 2019 में बच्चे की स्कूल फीस के लिए गौर दंपती से 15 हजार रुपए उधार 10 प्रतिशत ब्याज पर लिए। ब्याज, पेनल्टी सहित करीब 3 लाख रुपए राशि लौटाने के बाद भी उन्होंने हिसाब खत्म नहीं किया। आरोपी हजार रुपए रोज के हिसाब से पेनल्टी बताकर 70 हजार रुपए और मांगने लगे।

बच्चों की पीटने की दी धमकी

सोनू बाई रुपए चुका नहीं पाई तो गौर दंपती गाली-गलौज करने लगे। धमकी दी कि बच्चों को रोककर मारपीट करेंगे। फोन पर लगातार मिल रही धमकी से परेशान होकर सोनूबाई रेलवे पटरी पर जान देने पहुंच गई। उनके पीछे-पीछे बच्चे भी वहां पहुंचे और वह मां को समझाकर घर ले गए। इसके बाद परिवार को घटना पता चली। परिवार ने बाणगंगा थाने में शिकायत की।

हुसैन अली Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned