होम क्वारेंटाइन में शहर के रंगकर्मी ऑनलाइन कार्यक्रमों के जरिए करेंगे सेलिब्रेट

Indore News : विश्व रंगमंच दिवस : रंगकर्मी व्हाट्सऐप-यूट्यूब पर साझा करेंगे अपनी रचनाएं

इंदौर. विश्व रंगमंच दिवस को शहर के रंगकर्मी इस बार कुछ अलग अंदाज में मनाने की तैयारी कर रहे हैं। दरअसल, कोरोना की वजह से पूरा देश लॉकडाउन है, एेसे में इस दिन होने वाले सभी कार्यक्रम स्थगित हो गए हैं। लेकिन शहर के रंगकर्मी विश्व रंगमंच दिवस को मनाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। इस बार रंगमंच दिवस पर कोई नाटक, किसी कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा, बल्कि शहर के रंगकर्मी इस दिन को ऑनलाइन कार्यक्रमों के जरिए सेलिब्रेट करेंगे। वे ऑनलाइन स्क्रिप्ट राइटिंग करेंगे, ऑनलाइन नाटक की तैयारी करवाएंगे, तो ऑनलाइन की कविताएं, अपनी रचनाएं सबको सुनाएंगे।
रंगकर्मी सुशील गोयल ने बताया, हर साल इस दिन उनकी संस्था इंदौर थिएटर कार्यक्रम का आयोजन करती थी। इस साल भी यह कार्यक्रम निर्धारित थे, लेकिन लॉकडाउन के कारण इसे स्थगित कर दिया गया है। अब उन्होंने संस्थाओं, रंगकर्मियों, आर्टिस्ट्स से ऑनलाइन वीडियो स्क्रिप्ट मंगाई है। जो सामाजिक सरोकारों से संबंधित कहानी को दर्शाती हों। इन स्क्रिप्ट्स पर काम लगातार हो रहा है। उन्होंने बताया, शुक्रवार तक ये स्क्रिप्ट आएंगी। वे लोगों को बता रहे हैं कि किस तरह वे वीडियो बनाकर भेज सकते हैं। इन ऑनलाइन भेजे वीडियो को वह शुक्रवार को अन्य रंगकर्मियों को निर्णय के लिए भेजेंगे और जो स्क्रिप्ट बेहतर होगी, उसे पुरस्कृत किया जाएगा।
रंगकर्मी संदीप दुबे ने बताया, उनकी संस्था रंगमंच आर्ट ऑफ ड्रामा और रुद्राक्ष संस्था के संयुक्त तत्वावधान में आगामी समय में मार्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम नाटक का आयोजन होना है। क्वारेंटाइन टाइम में इस नाटक की ऑनलाइन रिहर्सल चल रही है। शुक्रवार को रंगमंच दिवस पर भी इस नाटक की ऑनलाइन तैयारी की जाएगी। नाटक से जुड़े सभी कलाकारों को उन्होंने डॉयलॉग भेज दिए हैं। वे अपने-अपने घर पर इसकी तैयारी कर रहे हैं। संदीप खुद नाटक की स्क्रिप्ट और म्यूजिक को ऑनलाइन तैयार कर रहे हैं। साथ ही नाटक के जितने भी कलाकार हैं, उनके साथ ऑनलाइन जुडक़र उनकी रिहर्सल भी करा रहे हैं। कलाकार डॉयलॉग की रिकॉडिंग उन्हें भेज रहे हैं और वे उसकी कमियां देखकर कलाकारों को उसे दूर करने के सुझाव दे रहे हैं।
रंगकर्मी सतीष श्रोत्री ने बताया, लॉकडाउन की वजह से पूरा देश इस समय बंद है। एेसे में रंगमंच दिवस को हम सभी रंगकर्मी ऑनलाइन सेलिब्रेट करेंगे। उन्होंने बताया, वे स्वयं इस दिन अपनी कविताओं का ऑडियो बनाएंगे और उसे सोशल मीडिया के जरिए लोगों तक पहुंचाएंगे। इसके साथ ही कहानियां, रंगमंच से जुड़ी घटनाओं के ऑडियो भी शेयर करेंगे, ताकि लोग रंगमंच के इतिहास के बारे में जान सकें। वहीं जो कलाकार थिएटर में अपना कॅरियर बनाना चाहते हैं, उनके लिए वे टिप्स भी ऑनलाइन साझा करेंगे।

राजेश मिश्रा Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned