यशवंत क्लब : इस साल नहीं हो सकेंगे चुनाव, 4500 लोगों की एजीएम की नहीं मिलेगी अनुमति

- कोरोना के चलते 16 महीने से टले हुए हैं चुनाव

 

इंदौर. शहर के प्रतिष्ठित यशवंत क्लब के चुनाव इस वर्ष भी नहीं हो सकेंगे। करीब 4500 सदस्यों वाली संस्था के चुनाव से पहले वार्षिक साधारण सभा होती है। कोरोना के चलते एक साथ इतने लोगों के एकत्र होने की अनुमति नहीं मिलने के चलते अगले दो महीने चुनाव नहीं कराने का अनौपचारिक निर्णय लिया गया। कोरोना की स्थितियां नियंत्रित रहने पर जनवरी-फरवरी में चुनाव कराने की योजना बनाई जा रही है। क्लब की हालिया कार्यकारिणी का कार्यकाल जून 2020 में पूरा हो गया था, लेकिन कोरोना की पहली लहर के चलते चुनाव नहीं हो सके। इस वर्ष की शुरुआत में भी चुनाव की अनुमति जिला प्रशासन से मांगी गई थी, लेकिन दूसरी लहर के चलते फिर चुनाव टल गए थे। जनवरी-फरवरी में होने की उम्मीद क्लब के चेयरमैन परमजीत सिंह छाबड़ा ने बताया, कुछ दिन पहले भी हमने जिला प्रशासन को चुनाव की अनुमति के लिए पत्र लिखा था, अभी अनुमति नहीं मिली है। कोरोना की स्थितियां ठीक रहीं तो जनवरी-फरवरी में चुनाव कराएंगे। इस संबंध में क्लब के सदस्यों से भी लगातार चर्चा हो रही है। इसी बीच क्लब ने सदस्यों के लिए शनिवार से स्विमिंग पूल भी खोल दिया गया है। कोरोना की गाइडलाइन के अनुसार सिर्फ सदस्य इसका इस्तेमाल कर सकेंगे। सदस्यों के मेहमान के लिए फिलहाल इसकी अनुमति नहीं दी गई है।

विकास मिश्रा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned