पुलिस की कारस्तानी : युवक ने की थी मारपीट,पुलिस बुजुर्ग को पकड़ लाई

पुलिस की कारस्तानी : युवक ने की थी मारपीट,पुलिस बुजुर्ग को पकड़ लाई

Hussain Ali | Updated: 12 Jun 2019, 04:18:42 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

आरोपित के साथ फरियादी ने की आला अफसरों से शिकायत

इंदौर.पुलिस की कलाकारी कई मामलों में देखने को मिलती है, लेकिन हाल ही में हुए एक विवाद में आरोपित ही थाने पर बदल गया। फरियादी का कहना है कि झगड़ा जवान लड़के से हुआ था और पुलिस ने प्रौढ़ को आरोपित बना दिया। वहीं प्रौढ़ का कहना है कि पुलिस जानबूझकर उसे ऐसे मामले में फंसाकर गुंडा साबित करने पर लगी हुई है। अब इस पूरे मामले में एएसपी जांच कर रहे हैं।

must read : मासूम ने जब मां को बताई मकान मालिक की करतूत तो उड़ गए होश, बेटी को लेकर पहुंची थाने

मांगल्या ढाबली में रहने वाले नरेंद्र यादव ने पुलिस अफसरों को एक शिकायत की है। उसके साथ रामदीन ने भी पुलिस को शिकायत की है। अप्रैल माह में रामदीन का देवास नाका के पास विवाद हो गया था। उसके साथ मारपीट की गई। इस मारपीट में उसने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ केस दर्ज कराया था, लेकिन उसमें पुलिस ने नरेंद्र को आरोपित बताते हुए गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ कार्रवाई भी कर दी। रामदीन का कहना है कि उससे आरोपित की शिनाख्त भी नहीं करवाई थी। नरेंद्र को जब पता चला तो उसने फरियादी का पता लगाया और उससे संपर्क किया। वह फरियादी के पास पहुंचा तो उसने पहचानने से भी मना कर दिया।

must read : मिट्टी की ‘हेल्थ’ जांचने में जुटे अधिकारी, खेतों में जाकर किसानों से ले रहे सैंपल

इस पर नरेंद्र ने लसूडिय़ा थाने में शिकायत की, लेकिन वहां पर कोई सुनवाई नहीं हुई। नरेंद्र का आरोप है कि पुलिस जानबूझकर उसका रिकॉर्ड तैयार कर रही है। एक अन्य मामले में आरोपित नहीं मिला तो उसे ही फंसा दिया था। उस मामले के फरियादी ने भी उसे नहीं पहचाना है। पारिवारिक विवाद के चलते उस पर पहले केस दर्ज हुए थे, लेकिन वह सब खत्म हो गए हैं और वह अपना काम कर रहा है, लेकिन इसके बाद भी पुलिस उसे झूठे केस में फंसा रही है। कुछ नहीं तो प्रतिबंधात्मक कार्रवाई ही कर दी जाती है। अब झगड़े के केस में फंसा दिया है। उसने एएसपी क्राइम अमरेंद्रसिंह से इस पूरे मामले की शिकायत की है। उसके साथ उसे फंसाए गए केस का फरियादी भी था। दोनों से हुई पूछताछ के बाद एएसपी ने इस पूरे मामले में जांच के आदेश दिए हैं। एएसपी के मुताबिक वह जांच करवा रहे हैं, अगर शिकायतकर्ता निर्दोष होगा, तो उसे खिलाफ की गई कार्रवाई वापस ली जाएगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

नावदापंथ ब्रिज की घटना ,दो पक्षों में चल रहा था झगड़ा, तमाशाई पिटा

चंदन नगर थाना क्षेत्र में दो पक्ष आपस में भिड़ रहे थे, तभी यहां से गुजर रहे दो युवक तमाशा देखने रुक गए। बाद में लड़ते-लड़ते आरोपितों ने तमाशा देख रहे युवक को ही पीट दिया और उसके कान पर चाकू मार दिया।
मनीष वर्मा निवासी राजनगर ने पुलिस को बताया कि रात को मैं नौकरी के बाद अपने घर आ रहा था। मेरे साथ में दोस्त दीपक भी था। नावदापंथ में ब्रिज के पास झगड़ा हो रहा था। झगड़ा होने से वहां पर भीड़ इकठ्ठा थी तो मैं भी वहां पर रुक गया। यहां मौजूद निर्भय सिंह ने मुझे धक्का दे दिया, जिससे मेरी शर्ट फट गई तो मैंने गाली देना शुरू कर दिया। इसी बात को लेकर निर्भय सिंह व उसका लड़का राकेश व ईश्वर दोनों आ गए। मुझे गालियां देने लगे। दोनों लड़के व निर्भय सिंह मेरे साथ मारपीट करने लगे और मेरे कान पर चाकू से हमला कर दिया। मेरा कान कट गया और जान से मारने की धमकी दी। चंदन नगर पुलिस ने फरियादी मनीष की शिकायत पर आरोपितों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। ड्ड

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned