29 साल बाद दोबारा शुरू हुर्इ 121 पुरानी फैक्ट्री, इतने लोगों को मिलेगा रोजगार

कश्मीर में सिल्क की 121 साल पुरानी फैक्ट्री को 29 साल के बाद दोबारा से शुरू किया गया है।

By: Saurabh Sharma

Published: 24 Jul 2018, 05:11 PM IST

नर्इ दिल्ली। कश्मीर के अच्छे दिन शुरू हो गए हैं। खास बात ये है कि वहां पर अब बंद पड़ी पुरानी फैक्ट्रियों को दोबारा से शुरू किया जा रहा है। ताकि उन फैक्ट्रियों को शुरू कर एक बार फिर से वहां के लोगों को रोजगार देने के साथ उत्पादों को दोबारा से शुरू किया जा सके। एेसा ही एक मामला कश्मीर में सामने आया हैै। जहां सिल्क की 121 साल पुरानी फैक्ट्री को 29 साल के बाद दोबारा से शुरू किया गया है। आपको बता देें इस फैक्ट्री से होने वाले नुकसान की वजह से बंद कर दिया गया था।

इस ब्रिटिश बिजनेसमैन ने की थी शुरूआत
इस फैक्ट्री की शुरूआत एक बिट्रिश बिजनेसमैन ने 1897 शुरू की थी। जिनका नाम सर थॉमस वार्डल था। वो सिल्क असोसिएशन ऑफ ग्रेट ब्रिटेन के अध्यक्ष थे। जानकारों की मानें तो यह कश्मीर की सबसे पुरानी फैक्ट्रियों में से एक है। जानकार बताते हैं कि कभी इस फैक्ट्री में बना पूरे देश में निर्यात किया जाता था। एक बार फिर से जीवित करने का मुख्य लक्ष्य यही है कि इसे दोबारा से उसी लेवल पर ले जाया जा सके। आपको बता दें कि कश्मीर स्थित सोलिना में मौजूद यह फैक्ट्री घटते हुए उत्पादन और भारी नुकसान की वजह से बंद हो गई थी।

स्थानीय लोगों को हो रहा है फायदा
पिछले महीने शुरू हुर्इ इस फैक्ट्री में इस समय लगभग दर्जनभर लोग काम कर रहे हैं। इस फैक्ट्री के एक बार फिर से शुरू होने से कश्मीर के लोगों को काफी फायदा होगा। वहीं कोकून का उत्पादन करने वाले लगभग 50,000 किसान भी खुश हैं। इन्हें इससे सीधा फायदा मिलेगा। वहीं दूसरी आेर राज्य में सरकार के सिल्क प्रोडक्शन की योजना को भी बल मिलेगा। प्राप्त जानकारी के अनुसार सरकार इस प्रोजेक्ट के तहत स्किल डिवेलपमेंट की ट्रेनिंग भी देगी।

रेशम से रहा है पुराना नाता
कश्मीर का रेशम से पुराना नाता रहा है। वहीं कश्मीर को दुनियाभर में बेहतर सिल्क का उत्पादन करने के लिए भी जाना जाता है। घाट में लोटस और टुलिप समेत कई तरह के सिल्क का उत्पादन होता है। इसलिए सरकार भी योजना को आगे बढ़ाने के लिए निवेश करने में जुटी हुर्इ है। सिल्क फैक्ट्रियों में बने उत्पादों की मार्केटिंग के लिए जम्मू एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशनों में शोरूम बनाने का भी विचार रहा है। अब देखने वाली बात होगी कि आखिर आने वाले समय में यह फैक्ट्री देश की जनता को किस तरह का फायदा पहुंचाती हैै

 

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned