अमरीका के खराब मौसम ने कपास आैर रूई की कीमतों में दिए सुधार के संकेत

अमरीका में मौसम खराब होने से कपास फसल की तैयारी प्रभावित होने और नई मांग निकलने से वैश्विक बाजार में रूई की कीमतों में सुधार के संकेत मिल रहे हैं।

By: Saurabh Sharma

Updated: 15 Nov 2018, 10:41 AM IST

नई दिल्ली। अमरीका में मौसम खराब होने से कपास फसल की तैयारी प्रभावित होने और नई मांग निकलने से वैश्विक बाजार में रूई की कीमतों में सुधार के संकेत मिल रहे हैं। इससे भारतीय वायदा और हाजिर बाजार में भी सकारात्मक रुझान देखने को मिल सकता है। हालांकि विशेषज्ञ बताते हैं कि कच्चे तेल का दाम काफी गिर गया है, इसलिए सिनथेटिक धागों की कीमतों में कमी आएगी, जिससे रूई को कड़ी स्पर्धा मिलेगी।

काॅटन के वायदे में आर्इ मजबूती
गिरावट पर लिवाली बढ़ने से बुधवार को आईसीई कॉटन वायदे में मजबूती आई है। पिछले सत्र में एक महीने के निचले स्तर से कीमतों में में उठाव रहा। मिलों की मांग व और मौसम की बेरुखी से फसल की तैयारी की चिंता बढ़ने का कीमतों को सपोर्ट मिला। सर्वाधिक सक्रिय आईसीई वायदा यानी मार्च डिलीवरी सौदा पिछले सत्र में 0.69 सेंट यानी 0.89 फीसदी की तेजी के साथ 78.35 सेंट प्रति पौंड पर बंद हुआ।

एेसे में मिल रहा है सपाेर्ट
गुरुवार को भी आरंभिक सत्र में 0.11 फीसदी की बढ़त के साथ 78.43 सेंट प्रति पौंड पर चल रहा था कारोबार। विदेशी एनालिस्ट रोज कमोडिटी के लुइस रोज ने कहा, नई मांग और ऑन-कॉल फिक्सेशन से बाजार काटन को मिला सपोर्ट यूएसडीए डाटा के अनुसारए 11 नवंबर तक अमेरिका में कपास की महज 54 फीसदी फसल हुई तैयार। मार्केट मिरर के अनुसार, हाजिर में पिछले कुछ सत्रों से तकरीबन स्थिरता के साथ कारोबार हुआ, इसलिए आज सकारात्मक रुझान बनने से कीमतों में थोड़ा सुधार हो सकता है, लेकिन आवक का भी दबाव रहेगा।

 

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned