हर साल करोंड़ाें खर्च करने के बाद भी पिछड़े बाबा रामदेव, इन कंपनियों ने दी पतंजलि को मात

हर साल करोंड़ाें खर्च करने के बाद भी पिछड़े बाबा रामदेव, इन कंपनियों ने दी पतंजलि को मात

Manish Ranjan | Publish: Oct, 29 2018 04:00:37 PM (IST) इंडस्‍ट्री

कभी टेलीविजन में टॉप-3 विज्ञापनदाताओं में बाबा रामदेव की पतंजलि का दबदबा रहा था।

नई दिल्ली। कभी टेलीविजन में टॉप-3 विज्ञापनदाताओं में बाबा रामदेव की पतंजलि का दबदबा रहा था। लेकिन पिछले कुछ दिनों में टीवी से पतंजलि के बहुत से विज्ञापन गायब होते नजर आ रहे हैं। हाल ही में आई द प्रिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार पतंजलि देश के शीर्ष तीन विज्ञापनदाताओं की सूची में से बाहर हो गई है। इतना ही नहीं एडएक्स इंडिया के इस साल के नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक, पतंजलि अब इस सूची में 10 वें स्थान पर आ गई है।

10 वें स्थान पर खिसकी पतंजलि

आपको बता दें कि टॉप -10 विज्ञापनदाताओं की सूची में पतंजलि 2015 तक आस-पास भी नहीं था। लेकिन 2016 में पतंजलि ने इस सूची में सातवें स्थान हासिल कर लिया। पिछले साल पतंजलि ने विज्ञापनदाताओं की सूची में चॉकलेट निर्माता कैडबरी को भी पछाड़कर दिया था। लेकिन इस साल विज्ञापनदाताओं की सूची में पतंजलि 10 वें स्थान पर है। इतना ही नहीं इस साल पतंजलि कैडबरी ,कोलगेट जैसी बड़ी-बड़ी कंपनियों से मात खाती नजर आ रही है।

कम होते जा रहे हैं पतंजलि के विज्ञापन

बीएआरसी इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक एक साल पहले तक चैनलों पर हर हफ्ते पतंजलि के लगभग 25,000 विज्ञापन आते थे। जबकि अब चैनलों पर हर हफ्ते पतंजलि के 16,000 से भी कम विज्ञापन आते हैं। इस साल 29 सितंबर से 5 अक्टूबर के सप्ताह में तुलना करें तो पतंजलि टेलीविजन पर शीर्ष 10 विज्ञापनदाताओं में दूर-दूर तक कहीं भी नहीं है।

विज्ञापनों पर पतंजलि करता है करोड़ का खर्चा

विज्ञापन एजेंसियों के मुताबिक पतंजलि विज्ञापनों पर 500 करोड़ रुपए या अपने कारोबार का 5 फीसदी तक खर्च करता है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पतंजलि ने 2017-18 में विज्ञापन पर 570 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। पतंजलि ने इस वित्त वर्ष में विज्ञापनों पर कुल 560 करोड़ रुपए खर्च करने की योजना बनाई है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned