सुस्त हुई विनिर्माण क्षेत्र की रफ्तार, जून में 52.1 पर पहुंचा PMI इंडेक्स

  • Manufacturing Sector के प्रदर्शन का इंडेक्स PMI मई में 52.1 पर पहुंचा
  • मई की तुलना में इंडेक्स में आई गिरावट

By: Shivani Sharma

Published: 01 Jul 2019, 02:23 PM IST

नई दिल्ली। देश के विनिर्माण क्षेत्र का प्रदर्शन जून में सुस्त रहा है। जून माह में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की ग्रोथ धीरे रही है। कंपनियों के परचेजिंग मैनेजरों के बीच किए जाने वाले मंथली सर्वे में यह बात सामने आई है। फिलहाल जून में आईएचएस मार्किट इंडिया मैन्यूफैक्चरिंग परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स ( PMI ) 52.1 अंक पर रहा है। वहीं, मई में पीएमआई इंडेक्स 52.7 पर था।


पिछले 23 महीनों से 50 फीसदी के ऊपर है इंडेक्स

मई की तुलना में पीएमआई सेक्टर में गिरावट देखी गई है। ग्रोथ की रफ्तार में यह कमी नए ऑर्डर की संख्या में वृद्धि कम रहने के कारण उत्पादन और रोजगारों के सृजन में कमी के चलते हुई है। पिछले 23 महीनों से मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई 50 के आंकड़े से ऊपर रहा है। पीएमआई का आंकड़ा 50 से ऊपर रहने पर क्षेत्र में विस्तार, जबकि नीचे रहने पर संकुचन दर्शाता है।


ये भी पढ़ें: मुंबई हेडक्वॉर्टर बेचकर कर्ज का भुगतान करेंगे अनिल अंबानी, जल्द खरीदार मिलने की उम्मीद


अप्रैल और मार्च की तुलना में आई काफी गिरावट

अगर हम अप्रैल माह की बात करें तो विनिर्माण क्षेत्र के प्रदर्शन का इंडेक्स निक्केई 51.8 फीसदी पर था। जबकि मार्च में यह 52.6 पर था। अप्रैल और मार्च की तुलना में इसमें काफी गिरावट देखी गई है। आईएचएस मार्किट में प्रधान अर्थशास्त्री पॉलिना डे लिमा ने कहा, 'फैक्ट्री ऑर्डर्स, उत्पादन, रोजगार और निर्यात का स्तर में वृद्धि देखी गई, लेकिन घरेलू तथा अंतरराष्ट्रीय मांग में कमी आने से इन सबके ग्रोथ की रफ्तार में सुस्ती रही है।'


रिपोर्ट में हुआ खुलासा

सर्वेक्षण के मुताबिक, उपभोक्ता वस्तुएं ग्रोथ का अहम स्रोत रही हैं, जिसके कारण बिक्री, उत्पादन एवं रोजगारों में वृद्धि दर्ज की गई। इंटरमीडियट गुड्स कैटिगरी में उत्पादन तथा नए ऑर्डर्स में मामूली वृद्धि दर्ज की गई, लेकिन रोजगारों स्थिरता रही है।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App

Show More
Shivani Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned