'इंडिया के सोलर मैन' ने सौर ऊर्जा में बढ़ाया भारत का दबदबा, इस अवाॅर्ड से किया जाएगा सम्मानित

'इंडिया के सोलर मैन' ने सौर ऊर्जा में बढ़ाया भारत का दबदबा, इस अवाॅर्ड से किया जाएगा सम्मानित

Saurabh Sharma | Publish: Jan, 10 2019 12:14:57 PM (IST) इंडस्‍ट्री

नेशनल सोलर एनर्जी फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष प्रणव आर मेहता को ग्लोबल सोलर काउंसिल का अध्यक्ष बनाया गया है।

नई दिल्ली। नेशनल सोलर एनर्जी फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष प्रणव आर मेहता को ग्लोबल सोलर काउंसिल का अध्यक्ष बनाया गया है। 'इंडिया के सोलर मैन' के नाम से पहचाने जाने वाले मेहता ने दुनिया भर में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भारत का दबदबा बढ़ाया है। उनको अगले हफ्ते अबू धाबी में 'सोलर विजनरी और इनफ्लूएंसर अवॉर्ड' से सम्मानित किया जाएगा। सौर ऊर्जा के क्षेत्र में दूरदर्शी नेता के तौर पर चर्चित मेहता को चीन, अमरीका, जर्मनी, स्पेन, इटली, अफ्रीका, ब्राजील, मैक्सिको, अरब वर्ल्ड, अर्जेंटीना, आईएए, आईआरईएनए कोलिएशन फॉर एक्शन और सोलर कॉरपोरेट वर्ल्ड की ओर से सम्मानित किया जा चुका है।

एनएसईएफआई से मिली जानकारी के अनुसार, प्रणव आर. मेहता ने एक जनवरी 2019 से वॉशिंगटन डीसी के हेडक्वॉर्टर में स्थित ग्लोबल सोलर काउंसिल के अध्यक्ष पद का कार्यभार संभाला। ग्लोबल सोलर काउंसिल की लांचिंग सौर ऊर्जा का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करने वाले 30 से ज्यादा देशों के अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन में पेरिस में जलवायु परिवर्तन समझौते के दायरे में 6 दिसंबर 2015 को ऐतिहासिक संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (यूएन सीओपी 21) के दौरान की गई।

इन देशों में चीन, अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस, इटली, स्पेन ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, मध्यपूर्व, इस्राइल, ब्राजील, मैक्सिको, ताइवान, मलेशिया समेत ज्यादा से ज्यादा देशों की सोलर असोसिएशन शामिल है। इसके अलावा विशाल, लघु और मध्यम श्रेणी की कंपनियां ग्लोबल सोलर असोसिएशन में शामिल हो रही है। जीएससी ग्लोबल वामिर्ंग और जलवायु परिवर्तन के प्रति प्राइवेट और एनजीओ सेक्टर की ओर से की गई पहल की प्रतिक्रिया है। ग्लोबल सोलर काउंसिल राष्ट्रीय और क्षेत्रीय सौर संघों और निगमों का अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन है, जो स्थापित व उभरते हुए बाजार में निजी क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करती है।

ग्लोबल वामिर्ंग और जलवायु परिवर्तन के खतरों से निपटने के लिए निजी क्षेत्र की प्रतिक्रिया के तौर पर पेरिस में 6 दिसंबर 2015 में यूएन कॉप सीओपी 21के दौरान पेरिस जलवायु वार्ता के दौरान ग्लोबल सोलर काउंसिल की स्थापना की गई थी। इसका उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय सरकारी निकायों जैसे आईएसए, आईआरईएनए, आरईएन 21, क्लीन एनर्जी मिनिस्ट्रियल के करीबी और नजदीकी सहयोग से विश्व में सौर ऊर्जा के विकास को बढ़ावा देना है।

सोलर क्षेत्र में भारत का परचम बुलंद रखने वाले प्रणव आर. मेहता को विश्व को उल्लेखनीय योगदान देने के क्षेत्र में सोलर फ्यूचर डे की ओर से सोलर विजनरी और इन्फ्लूएंसर अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा। अबू धाबी में वल्र्ड फ्यूचर एनर्जी समिट के दौरान 15 जनवरी 2019 को उन्हें यह पुरस्कार दिया जाएगा। प्रणव मेहता सौर ऊर्जा और पर्यावरण के क्षेत्र में जाना-पहचाना नाम है।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned