संकट में जेट एयरवेज, IT डिपार्टमेंट की रिपोर्ट में 650 करोड़ रुपए की हेरा-फेरी का हुआ खुलासा

संकट में जेट एयरवेज, IT डिपार्टमेंट की रिपोर्ट में 650 करोड़ रुपए की हेरा-फेरी का हुआ खुलासा

| Publish: Feb, 27 2019 10:35:19 AM (IST) इंडस्‍ट्री

  • इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने जेट एयरवेज पर एक रिपोर्ट तैयार की।
  • जेट एयरवेज और उसकी दुबई बेस्ड कंपनियों के बीच अनियमित लेनदेन हुआ।
  • 650 करोड़ रुपए के टैक्स से बचने के लिए कंपनी ने हेरा-फेरी की।

नई दिल्ली। हाल ही में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने जेट एयरवेज पर एक रिपोर्ट तैयार की है। रिपोर्ट में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि जेट एयरवेज और उसकी दुबई बेस्ड कंपनियों के बीच अनियमित लेनदेन हुआ है। डिपार्टमेंट का कहना है कि कंपनी ने 650 करोड़ रुपए के टैक्स से बचने के लिए हेरा-फेरी की है।

यह भी पढ़ें: दुनिया के सबसे अमीर डॉन पर कोलंबिया सरकार ने उठाया ये कदम


जेट एयरवेज के ऑफिस का किया गया था सर्वे

आपको बता दें कि डिपार्टमेंट ने यह रिपोर्ट अपनी असेसमेंट डिविजन को भेज दी है। यह डिविजन इस रिपोर्ट पर जेट एयरवेज से जवाब मांगेगी और उसके बाद फैसला करेगी कि कंपनी से टैक्स की मांग करनी है या नहीं। इस संदर्भ में एक अधिकारी ने बताया कि, 'पिछले साल सितंबर में खास सूचना मिलने के बाद हमने जेट एयरवेज के ऑफिस का सर्वे किया था। उस दौरान कई दस्तावेज जब्त किए गए थे। दुबई बेस्ड एंटिटी के साथ हुआ लेनदेन हमें संदिग्ध लगा। यह मामला एयरलाइन के एंटिटी को कमीशन देने से जुड़ा है।'

यह भी पढ़ें: मनीष सिसोदिया ने पेश की आर्थिक समीक्षा रिपोर्ट, कहा DTC के घाटे को दिल्ली सरकार ऐसे कर रही है पूरा


कंपनी ने टिप्पणी करने से किया इनकार

हालांकि जेट एयरवेज के एक प्रवक्ता का कहना है कि, 'कंपनी को अभी तक इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से इस बारे में कोई सूचना नहीं मिली है। इसलिए हम इस पर कॉमेंट नहीं कर सकते हैं।' इतना ही नहीं, एयरलाइन कंपनी हर साल दुबई में अपने जनरल सेल्स एजेंट को कमीशन देती है, जो असल में जेट एयरवेज ग्रुप की दुबई बेस्ड कंपनी का हिस्सा है। इनकम टैक्स कानून के तहत जितने कमीशन की इजाजत है, कथित तौर पर इस मामले में उससे अधिक रकम का भुगतान किया गया है।


Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned