तो इसलिए बर्बाद हो गए माल्या, वजह जानकर आप भी रह जाएंगे दंग

तो इसलिए बर्बाद हो गए माल्या, वजह जानकर आप भी रह जाएंगे दंग

Manish Ranjan | Publish: Dec, 26 2017 05:05:52 PM (IST) | Updated: Dec, 26 2017 05:12:46 PM (IST) इंडस्‍ट्री

दोस्तों ने बताई माल्या के बरबादी की असली वजह

नई दिल्ली। माना जाता रहा है कि विजय माल्या भारी कर्ज की वजह से आज बरबादी के कगार पर आ गए हैं। लेकिन उनके पुराने दोस्त कैप्टन गोपीनाथ की माने तो माल्या की बर्बादी उनके अनाप-शनाप खर्चों और अक्खड़पन की बजह से हुआ है। खास बात यह है कि विजय माल्या ने अपने इसी दोस्त से किंगफिशर एयरलाइंस को खरीदा था। जिसके बाद किंगफिशर कैलेंडर और बीच पार्टीज की वजह से माल्या ने बर्बादी की तरफ एक कदम और बढ़ा दिया।

यहां से शुरु हुई बरबादी की कहानी

एक जमाने में विजय माल्या के दोस्त रहे कैप्टन गोपीनाथ को सस्ती एयलाइंस क्षेत्र का जनक माना जाता था। विजय माल्या ने अपने इसी दोस्त से करीब 1000 करोड़ में देश की सबसे पहली सफल सस्ती एयरलाइंस एयर डेक्कन को खरीदा था। लेकिन अपने वेफजूल खर्चों की वजह से वो उसे चलाने में नाकाम रहे और यही से माल्या की बरबादी के सफर की शुरुआत हो गई। एक कार्यक्रम के दौरान उनके दोस्त गोपीनाथ ने कहा, 'मुझे लगता है कि वह किसी राजनीतिक साजिश के बजाय अपनी तड़क-भड़क भरी लाइफ और अक्खड़पन के शिकार हुए हैं।' किंगफिशर एयरलाइंस 2012 से ही ऑपरेशन से बाहर है और उस फर बैंकों का 9 हजार करोड़ रुपए का कर्ज है।

इनको लेकर अक्सर चर्चा में रहे

माल्या अक्सर दुनिया भर में होने वाली मंहगी पार्टियों, फॉर्मूला-1 रेस और सालाना स्विमवियर कैलेंडर को लेकर चर्चित रहे थे। भारत की जांच एजेंसियों और अदालतों के निशाने पर आने के बाद उन्हें लंदन भागना पड़ा था। माल्या की महंगी पार्टियों में देश विदेश के कई दिग्गज शामिल हुआ करते थे। जिनमें सितारों से लेकर राजनीति और कारोबार जगत की भी कई हस्तियां शामिल हैं।

क्या कहा माल्या के दोस्त ने

माल्गोया के दोस्त गोपीनाथ ने कहा कि शराब के प्रमुख व्यवसायी माल्या लोन चूक के दिनों में अपनी गतिविधियों को लेकर सजग नहीं थे। इसके साथ ही उन्होंने माल्या को राजनीतिक फुटबाल करार दिया जिन्होंने उस समय बैंकों से कर्ज लिया जबकि कांग्रेस नीत राजग सरकार सत्ता में थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned