आम आदमी पर महंगाई की मार, खाने-पीने की चीजों के बाद अब मंहगा हुआ रेल का किराया

पीएमओ की मंजूरी मिलने के बाद माना जा रहा है कि अगले एक महीने में नई किराया पॉलिसी लॉन्च हो सकती है। इस पॉलिसी में रेल किराए में बढ़ोतरी की घोषणा भी हो सकती है।

By: Pragati Bajpai

Updated: 28 Nov 2019, 08:22 AM IST

नई दिल्ली: भारतीय रेल दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क है, लोग सस्ता होने के कारण किसी और ट्रांसपोर्ट के साधन से ज्यादा रेल का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। दरअसल पीएमओ ने रेल के किराए में वृद्धि को मंजूरी दे दी है। यानि अगर आप रेल का सफर करते हैं तो बहुत जल्द आपको किराए में बढ़ोतरी की खबर मिल सकती है।

आर्थिक संकट से जूझ रहा है रेलवे-

भारतीय रेलवे इस समय आर्थिक संकट से जूझ रहा है दरअसल भारतीय अर्थव्यवस्था मंदी के दौर से गुजर रही है इसके असर से रेलवे भी अछूता नहीं है। यात्री मोर्चे रेलवे को रेवेन्यू संकट का सामना करना पड़ रहा है। इसके लिए रेलवे एयरलाइन्स की ओर से दिए जा रहे ऑफर्स को जिम्मेदार मान रहा है। आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए रेलवे ने गैरजरुरी खर्चों में भी कटौती की योजना बनाई है।

नहीं मिला खरीदार तो बंद होगी Air India, एविएशन मिनिस्टर ने संसद में दिया बड़ा बयान

जल्द आ सकती है नई किराया पॉलिसी-

भारतीय रेलवे जल्द ही नई किराया पॉलिसी पर काम कर रहा है। पीएमओ की मंजूरी मिलने के बाद माना जा रहा है कि अगले एक महीने में नई किराया पॉलिसी लॉन्च हो सकती है। इस पॉलिसी में रेल किराए में बढ़ोतरी की घोषणा भी हो सकती है।

फरवरी 2020 तक लागू हो सकता है किराया-

सरकार बढ़े हुए किराए को 1 फरवरी 2020 तक लागू कर सकती है।

8-10 फीसदी बढ़ सकता है किराया
सूत्रों के मुताबिक, रेलवे द्वारा यात्री किराए में 8-10 फीसदी का इजाफा हो सकता है। यात्री किराए में जहां वृद्धि की बात कही जा रही है वहीं, फ्रेट यानी मालभाड़े में किसी भी तरीके के इजाफे के पक्ष में रेलवे नहीं है। इसकी सबसे बड़ी वजह रोड सेक्टर से मिल रही जबरदस्त टक्कर को बड़ी वजह बताया जा रहा है।

भूख हड़ताल पर गए BSNL के कर्मचारी, VRS लेने को मजबूर करने का लगाया आरोप

Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned