एयर एशिया में बड़ा घोटाला, UPA के पूर्व मंत्री ने ली थी 50 लाख डाॅलर की रिश्वत

एयर एशिया में बड़ा घोटाला, UPA के पूर्व मंत्री ने ली थी 50 लाख डाॅलर की रिश्वत

Ashutosh Kumar Verma | Updated: 30 May 2018, 12:17:52 PM (IST) इंडस्‍ट्री

एयर एशिया को अंतर्राष्ट्रीय लाइसेंस आैर विदेशी निवेश के लिए FIPB से मंजूरी को लेकर यूपीए-2 सरकार के एक उड्डयन मंत्री को 50 लाख डाॅलर की दी गर्इ थी।

नर्इ दिल्ली। प्राइवेट विमान कंपनी एयर एशिया आैर यूपीए सरकार के एक पूर्व उड्डयन मंत्री के बीच एक बड़े घोटाले का खुलासा हुआ है। आरोप है कि एयर एशिया को अंतर्राष्ट्रीय लाइसेंस आैर विदेशी निवेश के लिए फाॅरेन इन्वेस्टमेंट प्रोमोशन बोर्ड (FIPB) से मंजूरी को लेकर यूपीए-2 सरकार के एक उड्डयन मंत्री को 50 लाख डाॅलर की दी गर्इ थी। इस बात का खुलासा एयर एशिया के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी मृत्युंजय चंदेलिया ने किया। चंदेलिया ने कहा कि मंजूरी के लिए तत्कालीन उड्डयन मंत्री को सिंगापुर के एक बैंक के जरिए रिश्वत दी गर्इ थी। अब इस मामले के सामने आने के बाद केन्द्रीय जांच ब्यूरो (CBI) भी इसकी जांच करने की तैयारी जुट गया है। हालांकि एयर एशिया ने इन सभी आरोपों को खारिज किया है।


FIR में इन अधिकारियों के नाम दर्ज

केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने इस मामले को लेकर प्रारंभिक केस दर्ज कर लिया है। सीबीआर्इ ने जो एफआर्इआर दर्ज की है उसमें एयर एशिया मलेशिया के समूह सीर्इआे एंथनी फ्रांसिस 'टोनी' फर्नांडीज के अलावा ट्रैवल फूड के मालिक सुनील कुमार, एयर एशिया के निदेशक आर. वेंकटरमन, एविएशन एडवाइजर दीपक तलवार, सिंगापुर की एसएनआर ट्रेडिंग के निदेशक राजेंद्र दुबे और अज्ञात सरकारी कर्मचारियों के नाम शामिल हैं। सीबीआर्इ के मुताबिक, लाइसेंस पाने के लिए कंपनी ने 5/20 नियम का उल्लंघन किया है। इसके साथ ही एफआर्इपीबी के नियामों का भी उल्लंघन हुअा है।


क्या है 5/20 नियम

जब किसी भी विमान कंपनी के पास पांच साल का अनुभव अौर कम से कम 20 विमानों का बेड़ा हो तब तक उसे अंतर्राष्ट्रीय उड़ान परिचालन की मंजूरी नहीं मिलती है। इसी नियम को 5/20 नियम कहते हैं। सीबीआर्इ ने आरोप लगाया है कि फर्नांडीज ने लाइसेंस पानेे के लिए कथित तौर पर लाॅबिंग की, ताकि मौजूदा 5/20 के नियमों को हटा दिया जाए। इसके साथ ही नियामकीय नीति में बदलाव किए जाने की भी कोशिश की गर्इ। अधिकारियाें के अनुसार, इस मामले में दिल्ली, मुंबर्इ आैर बेंगलुरु समेत छह स्थानों पर छापे मारे गए हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned