वालमार्ट की 'वृद्धि' से भारत के एमएसएमई को मिलेगा बूस्टर डोज

  • 5 वर्षों में 25 संस्थानों में 50,000 सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों को प्रशिक्षित करेगा वॉलमार्ट
  • वॉलमार्ट का वृद्धि प्रोग्राम दुनियाभर के ऑनलाइन और ऑफलाइन ग्राहकों को करेगा प्रोत्साहित

नई दिल्ली। खुदरा प्रमुख वालमार्ट ने सोमवार को वालमार्ट वृद्धि सप्लायर डेवलपमेंट प्रोग्राम ( Walmart Vriddhi Supplier Development Program ) लॉन्च किया। कंपनी ने यह प्रोग्राम भारत में अपनी क्षमता और आपूर्ति बढ़ाने के लिए सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग ( msme ) की मदद करने के लिए एक पहल के तौर पर शुरू किया है।

वालमार्ट इंटरनेशनल ( Walmart International ) की अध्यक्ष एवं सीईओ जुडिथ मैककेना ने यहां लॉन्चिग कार्यक्रम में कहा कि पहल के तहत ई-कॉमर्स प्रमुख फ्लिपकार्ट ( Flipkart ) की मालिक वालमार्ट का लक्ष्य अगले पांच वर्षो में 25 संस्थानों में लगभग 50,000 सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों को प्रशिक्षित करना है।

यह भी पढ़ेंः- दबाव से उबरकर हरे निशान पर बंद हुआ शेयर बाजार, आईओसीएल के शेयर में 2 फीसदी से ज्यादा की बढ़त

उन्होंने कहा, "वृद्धि प्रोग्राम भारतीय आपूर्तिकर्ताओं को दुनियाभर के ऑनलाइन और ऑफलाइन ग्राहकों को प्रोत्साहित करेगा। आपूर्तिकर्ता की घरेलू या दुनियाभर की महत्वाकांक्षा को वालमार्ट वृद्धि वह मौका देगा, जिससे वह सफलता प्राप्त कर सकें।" उन्होंने कहा कि पहला हब मार्च 2020 तक स्थापित किया जाएगा और यह प्रोग्राम उभरते हुए उद्यमियों के समुदाय को भी जोड़ेगा।

यह भी पढ़ेंः- अफगानी प्याज ने पोछे दिल्लीवासियों के आंसू, आज 7 रुपए प्रति किलो कम हुए दाम

मैककेना ने कहा कि यह पहल भारत में वालमार्ट की दीर्घकालिक प्रतिबद्धता का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि एमएसएमई को तकनीकी सहायता प्रदान करने की पहल के तहत कंपनी के पास एक अनूठा नेटवर्क होगा।

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned