विलजोएन ने आईपीएल को विश्व कप की बराबरी का टूर्नामेंट बताया, दिया यह कारण

  • किंग्स इलेवन पंजाब टीम के हैं अहम सदस्य
  • दक्षिण अफ्रीका के लिए खेल चुके हैं टेस्ट मैच
  • कोल पैक डील के जरिये डर्बीशर से जुड़े हैं

By: Mazkoor

Published: 10 Apr 2019, 07:53 PM IST

नई दिल्ली : दक्षिण अफ्रीका के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर और इंग्लिश काउंटी डर्बीशर टीम के अहम सदस्य तेज गेंदबाज हरडस विलजोएन ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि आईपीएल एक ऐसा टूर्नामेंट है, जिसका स्तर विश्व कप के बराबर है।

विश्व के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के साथ खेलने का मिलता है मौका
हरडस ने कहा कि विश्व भर में खेले जा रहे किसी भी टी-20 लीग का स्तर आईपीएल के बराबर का नहीं है। इसका स्तर तो विश्व कप के बराबर है। यहां खेलकर कोई भी खिलाड़ियों अंतरराष्ट्रीय अनुभव हासिल कर सकता है। क्योंकि की प्रतिस्पर्धा का स्तर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के बराबर का है। यहां विश्व के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिलता है।

सैमी और अश्विन की कप्तानी की तारीफ की
हरडस किंग्स इलेवन पंजाब टीम का हिस्सा हैं। उन्होंने रविचंद्रन अश्विन के कप्तानी की तारीफ करते हुए कहा कि उनके जैसा कप्तान हर टीम चाहती है, क्योंकि वह खिलाड़ियों को समझते हैं। वह काफी खिलाड़ियों की कप्तानी में खेले हैं। इनमें से शायद डैरेन सैमी सबसे अच्छे कप्तान हैं। वह उनकी कप्तानी में पाकिस्तान सुपर लीग में खेले हैं। अश्विन भी उसी कैटेगरी में आते हैं। अश्विन जानते हैं कि उन्हें मुझसे क्या मिल सकता है और मैं जानता हूं कि मुझे अलग-अलग परिस्थतियों में क्या करना है। जब कप्तान भरोसा करता है तो काम आसान हो जाता है और अश्विन यही करते हैं। उन्होंने कहा कि टी-20 में खिलाड़यों के सफल होने के पीछे कप्तान होता है। कप्तान हर टीम की सबसे बड़ी संपत्ति होता है। अगर सफल टीमों को देखें तो पता चलेगा कि कप्तान जानता था कि उसे खिलाड़ियों से क्या चाहिए और खिलाड़ी भी सफल टीम के खिलाड़ी भी जानते हैं कि कप्तान को उनसे क्या चाहिए। महान कप्तान अपने खिलाड़ियों से सर्वश्रेष्ठ निकलवाना जानता है।

टी-20 के बड़े नाम हैं हरडस
इस वक्त हरडस को टी-20 का बड़ा नाम माना जाता है। वह रन रोकने के साथ-साथ विकेट निकालने में भी माहिर हैं। उन्होंने कहा कि टी-20 क्रिकेट में सफल होने के लिए गेंदबाजों को बिना अतिरिक्त प्रयोग किए अपने बेसिक पर बने रहना चाहिए और एक ऐसा गेंदबाज बनना चाहिए, बल्लेबाजों को जिसे पकड़ना आसान न हो। उन्होंने कहा कि आप जिन खिलाड़ियों के सामने खेल रहे हैं, वह शानदार हैं और पूरे विश्व में टी-20 क्रिकेट खेल रहे हैं। इसलिए अपनी योग्यता पर भरोसा कीजिए और उसे लागू कीजिए। इसी मायने में आईपीएल बेहतरीन है, क्योंकि यहां विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों और गेंदबाजों के बीच लोग प्रतिस्पर्धा देखना चाहते हैं।

कॉलपैक के जरिये जुड़े डर्बीशर से
हरडस दक्षिण अफ्रीका के लिए 2016 में मात्र एक टेस्ट मैच खेले हैं। इसके बाद वह कॉलपैक डील साइन कर डर्बीशर से जुड़ गए। कॉल पैक डील वह होता है, जिसमें खिलाड़ी को अपने देश से पहले अपनी काउंटी टीम को प्राथमिकता देनी है। इस वजह से वह अपने देश से ज्यादा क्रिकेट नहीं खेल पाए। देश छोड़ डर्बीशर को प्राथमिकता क्यों दिया इस सवाल पर उन्होंने कहा कि एक मैच के बाद हर खिलाड़ी का सपना अपने देश से खेलने का होता है। लेकिन मौके भी तो मिलने चाहिए। एक मैच के बाद उन्हें हटा दिया गया। अपनी प्रतिभा दिखाने का सही मौका नहीं मिला। इसलिए कॉल पैक डील साइन करे का फैसला लिया। यह फैसला बहुत मुश्किल था, लेकिन हर चीज के होने के पीछ कोई न कोई कारण होता है। हर किसी को जीवन में सुरक्षा अपने परिवार के लिए भोजन चाहिए होता है। यह तो तय है कि हर खिलाड़ी का सपना अपने देश के लिए खेलने का होता है, लेकिन सच को स्वीकार करने के लिए तर्कसंगत होना भी जरूरी है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned