स्लेटर ने ऑस्ट्रेलियाई PM पर फिर साधा निशाना, बोले-आकर देख लो सडक़ों पर पड़े शव’

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर और IPL 2021 में कमेंटेटर माइकल स्लेटर ने ऑस्ट्रेलियाई पीएम को खिलाडिय़ों के प्रति असंवेदनशिल होने को लेकर आड़े हाथों लिया।

By: bhupendra singh

Updated: 06 May 2021, 05:51 PM IST

 

नई दिल्ली। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर और अब कमेंटेटर माइकल स्लेटर (Michael Slater) ने भारत में फंसे ऑस्ट्रेलियाई खिलाडिय़ों (Australia Players) के प्रति असंवेदनशील होने को लेकर एक बार फिर से अपने ही प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन (pm scott morrison) पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि भारत में हालात कितने खराब हो चुके हैं, यह देखने के लिए पीएम को अपने प्राइवेट जेट से यहां आकर सडक़ों पर पड़े शवों को देखना चाहिए।

यह भी देखें : IPL 2021 स्थगित होने से पहले ये 10 खिलाड़ी हुए कोरोना पॉजिटिव

IPL के 14 वें सीजन में कमेंट्री करने वाले स्लेटर, भारत में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच मालदीव भाग गए हैं। पूर्व सलामी बल्लेबाज मालदीव जाने से एक सप्ताह पहले ही स्लेटर घर जाने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन अब उन्हें आस्ट्रेलिया जाने के लिए इंतजार करना होगा। स्लेटर ने टिवटर पर लिखा, ‘यह गजब है कि प्रधानमंत्री ने मानवीय त्रासदी के मसले को नजदर अंदाज कर दिया। भारत में रहने वाले ऑस्ट्रेलियाई लोगों का डर असल है। कैसा रहेगा जब आप अपने प्राइवेट जेट लाएं और देखें कि सडक़ों पर शव पड़े हुए हैं।’

स्लेटर इससे पहले भी अॅास्ट्रेलियाई पीएम मॉरिसन पर निशाना साध चुके हैं। उन्होंने अपने खिलाडिय़ों के लिए स्वदेश वापसी का व्यवस्था नहीं करने पर मॉरिसन की कड़ी आलोचना करते हुए कहा था कि उनके पीएम का हाथ खून से रंगे हुए हैं। ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने भारत में फंसे लगभग 9,000 ऑस्ट्रेलियाई लोगों के स्वदेश लौटने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इनमें आईपीएल में खेल रहे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी और सहायक स्टाफ और कमेंटेटर स्लेटर भी थे।

यह भी देखें : शोएब अख्तर बोले-IPL में अगर एक साल पैसा नहीं कमाने से कोई मुसीबत नहीं आ जाएगी

स्लेटर ने टवीट करते हुए कहा था, ‘अगर हमारी सरकार ऑस्ट्रेलियाई लोगों की सुरक्षा की चिंता करती, तो वे हमें घर लौटने की अनुमति देती। यह एक अपमान है! प्रधानमंत्री के हाथ खून से रंगे हैं। आप हमारे साथ ऐसा व्यवहार कैसे कर सकते हैं। आपके क्वारंटाइन सिस्टम को क्या हुआ। मुझे आइपीएल में काम करने के लिए सरकार की अनुमति मिली थी, लेकिन मुझे अब सरकारी उपेक्षा झेलनी पड़ रही है।’ उन्होंने कोविड महामारी होने के बावजूद आईपीएल के लिए भारत जाने के लिए सवाल करने वालों को भी आड़े हाथों लिया था।

Show More
bhupendra singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned