बीसीसीआई लोकपाल के सामने पेश होंगे सौरभ गांगुली, हितों के टकराव की हालत में सीएसी छोड़ने को तैयार

बीसीसीआई लोकपाल के सामने पेश होंगे सौरभ गांगुली, हितों के टकराव की हालत में सीएसी छोड़ने को तैयार

Mazkoor Alam | Publish: Apr, 17 2019 04:54:35 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2019 05:04:36 PM (IST) आईपीएल

  • गांगुली सीएबी के अध्यक्ष और सीएसी के सदस्य हैं
  • सीएसी के सदस्य लक्ष्मण और तेंदुलकर भी हैं
  • लक्ष्मण सनराइजर्स से और तेंदुलकर मुंबई इंडियंस से जुड़े हैं

नई दिल्ली : सौरभ गांगुली ने आईपीएल की फ्रेंचाइजी टीम दिल्ली कैपिटल्स के सलाहकार का पद जब से संभाला है, तब से हितों के टकराव की बात हो रही है। गांगुली क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (CAB) तथा क्रिकेट सलाहकार समिति (CAC) के सदस्य भी हैं। इसी मुद्दे पर लोकपाल डीके के सामने उन्हें 20 अप्रैल को पेश होना है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के सीईओ राहुल जौहरी और लोकपाल डीके जैन ने सौरभ गांगुली के सीएसी में रहने और आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स के सलाहकार के तौर पर नियुक्ति की जांच करने की बात कही थी और गांगुली से इसका जवाब मांगा था। गांगुली का कहना है कि हितों के टकराव का मामला नहीं बनता। लेकिन अगर ऐसा होता है तो वह सीएसी सदस्य से इस्तीफा देने को तैयार हैं।

सीएसी के सदस्य लक्ष्मण और तेंदुलकर भी हैं
बीसीसीआई सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक गांगुली का कहना है कि यह हितों का टकराव नहीं हैं। इसके बावजूद अगर कोई सवाल उठता है तो वह सीएसी सदस्य से इस्तीफा देने को भी तैयार हैं। बता दें कि सीएसी में गांगुली के अलावा दो और सदस्य सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण हैं। सचिन तेंदुलकर जहां मुंबई इंडियंस से जुड़े हैं तो वहीं सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटॉर वीवीएस. लक्ष्मण हैं।

लोकपाल से मिलकर करेंगे चर्चा
मिली जानकारी के मुताबिक सीएसी की पिछली बैठक चैम्पियंस ट्रॉफी-2017 के बाद भारतीय टीम के मुख्य कोच की नियुक्ति के लिए हुई थी। इसी बैठक में रवि शास्त्री को कोच बनाने का निर्णय लिया गया था। इसके बाद से कोई बैठक नहीं हुई है। इस पर गांगुली का कहना है कि इसके बावजूद अगर हितों के टकराव का प्रश्न उठा तो वह सीएसी सदस्य से इस्तीफा देने को तैयार हैं। लेकिन वह यह भी कहते हैं कि यह किसी प्रकार से हितों के टकराव का मामला नहीं है। इसके बावजूद उनका इरादा लोकपाल से मिलकर इस पर चर्चा करने का है।

20 को पेश होंगे लोकपाल के सामने
हितों के टकराव को लेकर गांगुली के खिलाफ लोकपाल के पास पश्चिम बंगाल से तीन लोग भास्वाती सांतु, रंजीत सील और अभिजीत मुखर्जी ने शिकायत की है। उन्होंने अपनी शिकायत में कहा है कि सीएबी का अध्यक्ष होने के नाते सौरभ गांगुली को ईडन गार्डन्स में कोलकाता नाइट राइडर्स और दिल्ली कैपिटल्स के मैच में दिल्ली के डगआउट में नहीं बैठना चाहिए था। इसी शिकायत के मद्देनजर लोकपाल डीके जैन ने 20 अप्रैल को पेश होने को कहा है। इसी दिन दिल्ली अपने होम ग्राउंड फिरोज शाह कोटला मैदान पर किंग्स इलेवन पंजाब से अहम मैच खेलना है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned