scriptVirat message made harshal patel realise he can perform better in RCB | विराट कोहली के मैसेज से मुझे लगा, मैं बेंगलुरु टीम में बेहतर कर सकता हूं: हर्षल पटेल | Patrika News

विराट कोहली के मैसेज से मुझे लगा, मैं बेंगलुरु टीम में बेहतर कर सकता हूं: हर्षल पटेल

आईपीएल 2021 के शुरू होने से पहले दिल्ली कैपिटल से आरसीबी में ट्रेड किए गए पटेल ने इस सीजन में सात मैचों में खेले थे, जहां वह 17 विकेट लेकर सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में टॉप पर थे और उनके पास पर्पल कैप बरकरार थी।

Published: May 11, 2021 05:25:05 pm

तेज गेंदबाज हर्षल पटेल ने कहा है कि जब उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु (आरसीबी) में ट्रेड किया गया, तो उस समय कप्तान विराट कोहली के संदेश से उन्हें लग गया था कि वह इस टीम में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकते हैं। आईपीएल 2021 के शुरू होने से पहले दिल्ली कैपिटल से आरसीबी में ट्रेड किए गए पटेल इस सीजन में सात मैचों में खेले थे, जहां वह 17 विकेट लेकर सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में टॉप पर थे और उनके पास पर्पल कैप बरकरार थी।
Harshal patel
Harshal patel
विराट ने किया था ये मैसेज
एक मीडिया हाउस से बातचीत में हर्षल पटेल ने कहा कि जब वे आरसीबी की टीम में शामिल हुए तब विराट ने उन्हें मैसेज के जरिए कहा कि 'वेलकम बैक, तुम खेलोगे'। इससे हर्षल को बहुत आत्मविश्वास मिला और तब उन्होंने सोचा कि ये वही टीम है, जहां वे अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि वह आपको अपना काम करने देते हैं।
यहां तक कि अगर आप समय पर अपनी योजनाओं को लागू नहीं करते हैं, तो वह किसी से बेहतर समझते हैं कि बल्लेबाज का दिन है। जब भी हम बेहतर करने में असमर्थ होते हैं, या हम अपनी योजनाओं से भटक जाते हैं, जब हम समीक्षा के लिए बैठते हैं तो केवल इस बारे में बात होती है कि हम रास्ते पर रहने के लिए क्या करते हैं।
यह भी पढ़ें— IPL में बॉलिंग करने के दौरान पंत से साइन लैंग्वेज में बात करते थे आवेश खान, धोनी भी खा गए थे चकमा

harshal_patel_2.pngडीविलियर्स ने दिए टिप्स
तेज गेंदबाज हर्षल ने कहा कि एबी डीविलियर्स की टिप्स से उन्हें बेहतर गेंदबाजी करने में काफी मदद मिलती है। पटेल ने कहा कि मैदान पर क्या हो रहा है, डीविलियर्स से बेहतर और कौन जान सकता है। वो ज्यादा बात नहीं करते हैं और आपको अपना काम करने देते हैं। लेकिन अगर उनको लगा कि आप संघर्ष कर रहे हैं, तो फिर वो आपसे बातचीत करने के लिए आएंगे। जब तक मैं गेंदबाजी के लिए आता था वो शायद 7-8 ओवर की गेंदबाजी देख चुके होते थे। फिर वो छोटी-छोटी चीजें बताते थे कि विकेट क्या कर रही है, बल्लेबाज क्या करने की कोशिश कर रहे हैं। किस तरह की गेंद इस पिच पर काम कर सकती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.