scriptनाली निर्माण के बीच आ रहे 10 पेड़ों को जड़ सहित निकलवाकर दूसरी जगह किए गए शिफ्ट | 10 trees coming in between the drain construction were removed along with their roots and shifted to another place. | Patrika News
इटारसी

नाली निर्माण के बीच आ रहे 10 पेड़ों को जड़ सहित निकलवाकर दूसरी जगह किए गए शिफ्ट

नाली निर्माण के बीच आ रहे 10 पेड़ों को जड़ सहित निकलवाकर दूसरी जगह किए गए शिफ्ट

इटारसीJun 22, 2024 / 09:14 pm

Manoj Kundoo

10 trees coming in between the drain construction were removed along with their roots and shifted to another place.

नाली निर्माण के बीच आ रहे 10 पेड़ों को जड़ सहित निकलवाकर दूसरी जगह किए गए शिफ्ट

वार्ड 11 बंगाली कॉलोनी में निर्माण की भेंट चढऩे से बचाई गई दस पेड़ों की जान

इटारसी. अब तक आपने देखा और सुना होगा कि रोड, नाली, भवन निर्माण के बीच में आ रहे पेडों को बेदर्दी से काट दिया जाता है, लेकिन इटारसी नगरपालिका का एक वार्ड ऐसा है जहां पर इसके उलट वृक्षों को विकास के बीच नहीं आने दिया जा रहा। यहां विकास भी हो रहा है और वृक्ष भी नहीं काटे जा रहे। जी हां, यहां के वार्ड 11 बंगाली कॉलोनी में नाली निर्माण के बीच में 10 से अधिक बडे वृक्ष आ रहे थे, जिन्हें एक जगह से निकालकर दूसरी जगह शिफ्ट किया गया।
वार्ड पार्षद अमित विश्वास यह कार्य कर रहे हैं। उन्होंने जेसीबी के माध्यम से पेडों को जड़ सहित बाहर निकलवाया और बड़े गड्ढे कराकर उनमें पेडों को ट्रंासप्लांट करवाया है। इस कार्य को प्रोत्साहन देने के लिए नगरपालिका अध्यक्ष पंकज चौरे भी पहुंचे। उनकी मौजूदगी में पेड़ जेसीबी से निकाले गए और दूसरे गड्ढे में रीप्लांट किए गए।
नगरपालिका अध्यक्ष पंकज चौरे ने कहा कि पार्षद अमित ने सराहनीय कार्य किया है। अक्सर देखा जाता है कि रोड नाली निर्माण के समय पेड काट दिए जाते हैं। विशेषकर छोटे पेड़ को तो काट ही दिया जाता है, लेकिन यहां स्वयं के खर्च पर पार्षद ने पेड़ों को रीप्लांट किया है। वह बधाई के पात्र है और समाज को उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए।

कॉलोनी के पार्क में किए गए पेड़ शिफ्ट

पार्षद अमित विश्वास ने कहा कि पेडों को रीप्लांटेशन करना काफी सुखद रहा। सभी पेडों को हमनें बंगाली कॉलोनी के पार्क में लगा दिया है, यहां सभी नागरिक मिलकर उनकी देखरेख भी करेंगे। उनका कहना है कि हालांकि पेडों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर रीप्लांट करने की प्रक्रिया अवैज्ञानिक थी, लेकिन हम पेडों को जिंदा रखने के लिए पूरे प्रयास करेंगे। रीप्लांटेशन के दौरान पार्षद शुभम गौर, राहुल प्रधान, पार्षद प्रतिनिधि राजकुमार बाबरिया सहित अन्य मौजूद रहे।

फ्लैश बैक : इटारसी में पहले भी हो चुके हैं इस तरह के प्रयोग-

-रेलवे स्टेशन बारह बंगला की तरफ हो रहे निर्माण के दौरान बडी संख्या में बड़े वृक्षों को रीप्लांट किया गया।
-सामाजिक संस्थाओं ने पुलिस कॉलोनी निर्माण के दौरान बीच में आ रहे बडे वृक्षों को एक जगह से दूसरी जगह शिफ्ट किया।

-अटल पार्क में एक बरगद के वृक्ष को रीप्लांट किया गया था, जो अभी भी जीवत है।

कॉलोनी के पार्क में किए गए पेड़ शिफ्ट

पार्षद अमित विश्वास ने कहा कि पेडों को रीप्लांटेशन करना काफी सुखद रहा। सभी पेडों को हमनें बंगाली कॉलोनी के पार्क में लगा दिया है, यहां सभी नागरिक मिलकर उनकी देखरेख भी करेंगे। उनका कहना है कि हालांकि पेडों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर रीप्लांट करने की प्रक्रिया अवैज्ञानिक थी, लेकिन हम पेडों को जिंदा रखने के लिए पूरे प्रयास करेंगे। रीप्लांटेशन के दौरान पार्षद शुभम गौर, राहुल प्रधान, पार्षद प्रतिनिधि राजकुमार बाबरिया सहित अन्य मौजूद रहे।

फ्लैश बैक : इटारसी में पहले भी हो चुके हैं इस तरह के प्रयोग-

-रेलवे स्टेशन बारह बंगला की तरफ हो रहे निर्माण के दौरान बडी संख्या में बड़े वृक्षों को रीप्लांट किया गया।
-सामाजिक संस्थाओं ने पुलिस कॉलोनी निर्माण के दौरान बीच में आ रहे बडे वृक्षों को एक जगह से दूसरी जगह शिफ्ट किया।

-अटल पार्क में एक बरगद के वृक्ष को रीप्लांट किया गया था, जो अभी भी जीवत है।

Hindi News/ Itarsi / नाली निर्माण के बीच आ रहे 10 पेड़ों को जड़ सहित निकलवाकर दूसरी जगह किए गए शिफ्ट

ट्रेंडिंग वीडियो