ऑटो में जन्मी लाड़ली को पिता ने झेला

सुरक्षित है जच्चा-बच्चा

By: sandeep nayak

Published: 20 Jul 2018, 10:17 PM IST

इटारसी. कहा जाता है मां अपने बच्चे को जीवन देती है। शुक्रवार को ऑटो में जन्मी एक लाड़ली को उसकी माता के साथ उसके पिता ने भी जीवन दिया। जब एक गर्भवती महिला ऑटो से अपने पति के साथ अस्पताल जा रही थी तभी रास्ते में ही बच्ची को जन्म दे दिया।

लाड़ली को मां और पिता दोनों ने मिलकर जीवन दिया। पथरौटा नया खेड़ा निवासी यशवंत गौर के पत्नी शीला उम्र ३५ वर्ष गर्भ से थी। शुक्रवार को दोपहर में शीला गौर को प्रसव पीड़ा शुरू हुई। प्रसव पीड़ा शुरू होते ही यशवंत गौर अपनी पत्नी को ऑटो में लेकर अस्पताल के लिए जा रहा था। इसी दौरान अटल पार्क के सामने अचानक शीला गौर का प्रसव हो गया। साथ में बैठे शीला के पति ने स्थिति को भांपते हुए तुंरत जन्म लेते ही बच्ची को झेल लिया। बाद में महिला और बच्चे को सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां महिला को भर्ती कर उपचार दिया गया। जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं।

ऑटो चालक ने कराई मदद
जैसे ही बच्ची ने ऑटो में जन्म लिया तो ऑटो चालक ने ऑटो रोका और फिर लोगों को जानकारी दी। बाद ऑटो चालक और यहां कुछ लोगों ने मदद की और दोनों अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में स्टॉफ की मदद से महिला और बच्चे को अस्पताल में ले जाया गया। बच्ची के पिता ने बताया कि उसकी पत्नी को बराबर उपचार मिल रहा था। शुक्रवार को अचानक दर्द हुआ तो वह अस्पताल भर्ती कराने ही ला रहा था। उसे अंदाजा भी नहीं था कि बच्ची का जन्म रास्ते में हो जाएगा।जरा भी अंदेशा होता तो जननी एक्सप्रेस को कॉल करके बुला लेता।

डॉ विवेकचरण दुबे ने बताया कि महिला और नवजात को अस्पताल लाया गया था। बीच में ही बच्ची का जन्म हो गया था। दोनों को भर्ती कर लिया गया है। दोनों स्वस्थ हैं।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned