एसी शेड में संरक्षा से खिलवाड़, चल रही मनमानी

एसी शेड में संरक्षा से खिलवाड़, चल रही मनमानी

Rahul Saran | Publish: Sep, 03 2018 07:03:00 AM (IST) Itarsi, Madhya Pradesh, India

-बिना सामान और अधूरी ट्रेनिंग के साथ इंजन मेंटनेंस....
-यूनियन ने की डीआरएम को शिकायत

इटारसी। डीजल शेड में जल्द ही विद्युत इंजनों का बड़े पैमाने पर मेंटनेंस चालू होगा। इसके लिए डीजल शेड के कर्मचारियों को टे्रनिंग के लिए एसी शेड भेजा जा रहा है मगर वहां उन्हें बिना सामान और आधी अधूरी टे्रनिंग होने की बात का अनदेखा करते हुए लोको मेंटनेंस के फाइनल काम में लगाया जा रहा है। इंजन मेंटनेंस यह अनदेखी किसी बड़े हादसे का कारण भी बन सकती है। एसी शेड में चल रहे इस मनमाने काम की शिकायत डीआरएम तक पहुंच गई है।
यह है योजना
रेलवे ने डीजल शेड इटारसी में डीजल इंजनों की जगह विद्युत इंजनों का मेंटनेंस कराने का निर्णय लिया है। धीरे-धीरे डीजल शेड में विद्युत इंजन आते जाएंगे जिन पर डीजल शेड के कर्मचारी काम करेंगे। कर्मचारियों को एसी लोको मेंटनेंस का काम सिखाने के लिए 6 माह की ट्रेनिंग होती है और उसके बाद परीक्षा होती है जिसमें कर्मचारियों का दक्षता परीक्षण होता है इसके बाद ही कर्मचारी को लोको मेंटनेंस के लिए फिट माना जाता है।
जनवरी 2018 से यह हो रहा काम
डीजल शेड के कर्मचारियों को टे्रनिंग देने के लिए एसी शेड भेजा जा रहा है मगर वहां जो हो रहा है वह संरक्षा से खिलवाड़ साबित हो सकता है। डीजल शेड के कर्मचारियों को एसी शेड में कथित रूप से ट्रेनिंग दी जाती है और फिर सीधे ही उस लोको पर काम करने भेज दिया जाता है जिसे प्रशिक्षित कर्मचारी देख रहे होते हैं। नौसीखिए कर्मचारी उन कर्मचारियों के मार्गदर्शन में काम करता है जबकि उसके पास ना तो सामान होता है और ना ही पूरी ट्रेनिंग। जनवरी 2018 से यह काम हो रहा है।
डीआरएम को की शिकायत
करीब 8 महीने से एसी शेड में चल रही इस लापरवाही को लेकर वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्प्लाइज यूनियन ने मोर्चा खोल दिया है। यूनियन की डीजल शाखा ने डीआरएम शोभन चौधुरी को ज्ञापन सौंपकर इस मामले में शिकायत की है और इस मनमानी पर रोक लगाने की मांग की है ताकि भविष्य में होने वाली दुर्घटनाओं को टाला जा सके।
किसने क्या कहा
ट्रेनिंग पूरी हुए बिना ही कर्मचारियों से एसी शेड में लोको पर सीधे काम लिया जा रहा है। बिना स्पेअर पाट्र्स और ट्रेनिंग की कमी से संरक्षा के साथ खिलवाड़ हो रहा है। हमने डीआरएम को इसकी शिकायत की है।
मनोज रैकवार, अध्यक्ष डीजल शाखा डब्ल्यूसीआरईयू
यूनियन ने इस संबंध में ज्ञापन देकर जानकारी उपलब्ध कराई है। हम पता करा लेते हैं। इस मामले में यथोचित कार्यवाही की जाएगी।
शोभन चौधुरी, डीआरएम भोपाल मंडल

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned