लॉक डाउन और सोशल डिस्टेसिंग पर गंभीर नहीं लोग, संक्रमण फैलने का खतरा

-प्रशासन भी नहीं दे रहा है ध्यान

By: Rahul Saran

Published: 03 Apr 2020, 03:39 PM IST

इटारसी। शहर में कोरोना वायरस की रोकथाम को पुलिस और प्रशासन की तरफ से किए जा रहे प्रयासों को झटका लग सकता है। जिस लॉक डाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करने के लिए पूरा प्रशासन संदेश दे रहा है उसको लेकर शहर के लोग गंभीर नहीं है। लॉक डाउन के बावजूद पुलिस और प्रशासन की नजरों से बचकर लोगों ने गु्रप बनाने का दौर जारी रखा हुआ है। लोगों की यह लापरवाही पूरे शहर को खतरे में डाल सकती है।
-------------
लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिंग बनी मजाक
सुबह 8 बजे से 11 बजे तक शहर में किराना-दूध-सब्जी की दुकानें खोली जा रही हैं। प्रशासन के दुकानदारों को साफ निर्देश हैं कि ग्राहकों से सोशल डिस्टेंसिंग के मानक का पालन कराया जाएगा मगर हकीकत यह है कि बाजार खुलते ही मानक धरे रह जा रहे हैं। बिना सोशल डिस्टेंसिंग के ही बाजार में सामान खरीदी बिक्री का काम चल रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर ना तो अब ग्राहक गंभीर हैं और ना ही दुकानदार।
-----------
कर्मचारी भी नहीं दे रहे ध्यान
बाजार में सड़कों के साथ ही दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग के मानक का पालन कराने की तरफ अब पुलिस और प्रशासन का भी ध्यान नहीं है। बाजार में चुनिंदा दुकानों पर ही इस नियम का पालन हो रहा है। बाकी सभी दुकानों पर सामान खरीदने को लोगों के बीच रेलमपेल मचती है। बाजार में ड्यूटी पर मौजूद कर्मचारी भी इस तरफ ध्यान नहीं दे रहे हैं।
----------------
इनका कहना है
व्यापारियों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जा रहा है। हो सकता है कि कुछ जगहों पर इसे गंभीरता नहीं दिखा रहे हैं ऐसे व्यापारियों को भी संगठन की तरफ से समझाइश दी जाएगी ताकि संक्रमण का खतरा ना हो।
दीपक हरिनारायण अग्रवाल, अध्यक्ष संयुक्त व्यापार महासंघ

सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का जो भी दुकानदार पालन नहीं कर रहे हैं वे संक्रमण के फैलने का बड़ा कारण बन सकते हैं। अब ऐसे दुकानदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
हरेंद्र नारायण, एसडीएम इटारसी

Rahul Saran Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned