निजी मेडिकल स्टोर्स से दवा खरीदने पर रेलवे करेगी कर्मचारियों को भुगतान

-रेल कर्मचारियों की दूर हुई चिंता

By: Rahul Saran

Published: 10 Apr 2020, 03:16 PM IST

इटारसी। रेलवे अस्पताल में हृदय रोग, कैंसर, टीबी, मलेरिया, डायबिटीज सहित अन्य बीमारियों की दवा नहीं मिलने पर रेलकर्मियों को बाजार में निजी मेडिकल स्टोर्स खरीदने मजबूर होना पड़ रहा है। इसमें उन पर आर्थिक बोझ आ रहा था। अब उन्हें निजी मेडिकल स्टोर्स से दवा खरीदने पर राशि का भुगतान रेलवे करेगी। इस संबंध में आदेश जारी हो गए हैं।
रेलवे अस्पताल में यदि उक्त बीमारियों से संबंधित दवाएं नहीं मिलती हैं तो रेलकर्मी बिना किसी चिंता के वे दवाएं प्राइवेट मेडिकल स्टोर्स से खरीद सकते हैं। उन्हें खर्च की गई राशि के लिए रिइंबर्समेंट फॉर्म भरकर देना होगा। इस फॉर्म के आधार पर रेलकर्मी को दवा खर्च का भुगतान किया जाएगा। रेलवे बोर्ड ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है। भोपाल मंडल के हजारों रेलकर्मियों को इस आदेश से भुगतान मिलने का रास्ता साफ हो गया है। यूनियन प्रवक्ता प्रीतम तिवारी ने बताया कि रेलवे बोर्ड ने इसके संबंध में आदेश निकाल दिया है। यूनियन के कार्यकारी अध्यक्ष केके शुक्ला ने कहा कि यदि रेल कर्मचारियों और उनके परिजनों को अस्पताल से दवा नहीं मिलती है तो वे बिना किसी चिंता के बाहर की दुकान से उसकी खरीदी कर सकते हैं।
---------------
चेन्नई सेंट्रल-नईदिल्ली पार्सल स्पेशल ट्रेन इटारसी में भी रुकेगी
इटारसी। लॉक डाउन के दौरान जरूरी वस्तुओं खाद्यान्न, सब्जियां, खेती के लिए बीज, मेडिकल इत्यादि आवश्यक वस्तुओं के परिवहन करने चेन्नई से नईदिल्ली के बीच चलाई जाने वाली पार्सल ट्रेन इटारसी जंक्शन पर भी रुकेगी।
जानकारी के अनुसार टे्रन 006 46 /006 47 चेन्नई सेंट्रल - नईदिल्ली- चेन्नई सेंट्रल पार्सल स्पेशल ट्रेन प्रति दिन चलाई जा रही है। यह भोपाल और बीना के अलावा केवल इटारसी में रुकेगी। चेन्नई से चलने वाली पार्सल ट्रेन शाम ६.३० बजे इटारसी आएगी। नईदिल्ली से चलने वाली पार्सल ट्रेन सुबह ९.३० बजे इटारसी आएगी।इसमें सामान के लदान और उतरान की जिम्मेदारी पार्सल बुक करने वाले व पार्सल पाने वाले की रहेगी।

Rahul Saran Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned