किराना दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, नहीं रखा जा रहा मानकों का ध्यान..

-किराना दुकानदार भी नहीं दे रहे ध्यान
-बिना सेनेटाइजेशन हो रहा नोटों व सामान का लेनदेन

इटारसी। नगर प्रशासन द्वारा सुबह ८ बजे से ११ बजे तक किराना-फल-सब्जी और दूध की खरीदी के लिए ३ घंटे की छूट दी जा रही है। इस छूट के चलते शहर की किराना और सब्जी की दुकानों पर भीड़ उमड़ रही है। शहर की चुनिंदा किराना दुकानों पर ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है। बाकी की सभी किराना और सब्जियों की दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग के मानक की धज्जियां उड़ाते हुए खरीदी की जा रही है। दुकानदारों और ग्राहकों का यह लापरवाही भरा रवैया शहर की सेहत के लिए खतरा बन रहा है।
------------------
कुछ ने बनाए गोले, तो कुछ ने लगाई भीड़
शहर के चंद दवा कारोबारियों ने ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए दुकानों के सामने गोले बनाए हैं। शेष दवा कारोबारी खुद ही संक्रमण को बढ़ावा देने का रास्ता तैयार कर रहे हैं। वे अपने मेडिकल स्टोर्स पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए बिना ही भीड़ लगा रहे हैं। एक साथ एक ही जगह पर लोगों की भीड़ कोरोना वायरस के फैलाव का कारण बन सकती है।
------------------
सड़कों पर थमी रफ्तार, सूनीं हुई सड़कें
धारा 144 के बीच सुबह ८ से ११ बजे तक तीन घंटे की छूट के दौरान ही वाहनों की आवाजाही सड़कों पर हो रही है। उसके बाद सड़क पर दिखने वालों के साथ पुलिस की सख्ती हो रही है। पुलिस और प्रशासन की सख्ती के कारण शहर की सड़कों पर रफ्तार थम गई है और जिंदगियां घरों में थम गई हैं।
-----------------
प्लेटफॉर्म पर सन्नाटा, पेंडिंग काम निपटा रहे रेलकर्मी
इटारसी जंक्शन के इतिहास में पहली बार ऐसा अवसर आया है जबकि स्टेशन पर सन्नाटा पसरा है। जंक्शन पर कोई भी यात्री ट्रेन की आवाजाही नहीं होने से पूरे सातों प्लेटफॉर्म खाली पड़े हैं और खानपान स्टॉलों पर गतिविधियां थमी पड़ी हैं। स्टेशन पर यात्रियों का लोड नहीं होने से रेलकर्मी पेंडिंग काम निपटा रहे हैं। डीसीआई बीएल मीना ने बताया कि फिलहाल पेंडिंग काम ही निपटाया जा रहा है।
----------------
सब्जी मंडी में पुलिस का पहरा
बुधवार को शहर में ठेलों पर सब्जी की दुकानें लगाकर विभिन्न वार्डों में विक्रय कराने के निर्णय के बाद सब्जी मंडी को पुलिस के पहरे में कर दिया गया। सब्जी मंडी के मुख्य द्वार पर पुलिसकर्मियों और नपाकर्मियों की ड्यूटी लगा दी गई ताकि सुबह 8 बजे से 11 बजे के बीच यहां पर सब्जी की दुकानें ना लगे जिससे भीड़ की स्थिति नहीं बने। सुबह 11 बजे तक पुलिसकर्मियों ने किसी को सब्जी मंडी में प्रवेश नहीं करने दिया। लोगों ने सड़क किनारे लगी हुई दुकानों के साथ ही गलियों में फेरी लगाने वालों से सब्जियों की खरीदी की।
--------------------------
छह जगहों पर लगेगा सब्जी बाजार
हर दिन सुबह 8 बजे से 11 बजे तक सब्जी बाजार में ज्यादा भीड़ होने से व्यवस्थाएं बिगडऩे लगी हैं। इस समस्या को देखते हुए अब नपा ने शहर में 6 जगहों पर सब्जी बाजार लगाने का निर्णय लिया है ताकि एक ही जगह पर भीड़ जमा ना हो। नपा के मुताबिक सीपीई के सामने, सूखा सरोवर मैदान, गांधी मैदान, लाल ग्राउंड, खेड़ा क्षेत्र और नपा कार्यालय के सामने सब्जी बाजार लगाया जाएगा। इसके लिए चिन्हित जगहों पर ले-आउट डाला गया।
---------------------
शहर के प्रवेश द्वार से चेकिंग नदारत
होशंगाबाद से इटारसी आने वाले नेशनल हाइवे की सड़क पर भैंरो बाबा मंदिर के सामने किसी तरह की जांच व्यवस्था नहीं है। होशंगाबाद से इटारसी की तरफ कोई भी व्यक्ति सुरक्षा व्यवस्था में कमी को लाभ उठाकर शहर में प्रवेश कर सकता है मगर इस तरफ ना तो पुलिस का ध्यान है और ना ही प्रशासनिक अधिकारियों का।
-----------------
जरुरतमंदों को बांटी निशुल्क सब्जी
्र्र्र्रशहर में धारा 144 लागू होने के कारण जरुरतमंद परिवारों की आफत हो गई है। जरुरतमंद परिवार काम पर नहीं जा पा रहे हैं जिससे उनके घरों को चलाना मुश्किल हो रहा है। इन हालातों में मदद के लिए अब लोग आगे आने लगे हैं। गुरूवार को पुरानी इटारसी में भाजपा के कार्यकर्ताओं ने जरुरतमंदों के लिए निशुल्क सब्जियां वितरित कीं।
--------------
ओझा बस्ती में बांट रहे दोनों वक्त खाने के पैकेट
पुलिस के सहयोग से क्रांतिकारी किसान मजदूर संगठन आगामी पंद्रह दिन तक ओझा बस्ती में रहने वालों को दोनों टाइम खाने के पैकेट बांटेगा। गुरुवार से इसकी शुरुआत की गई। संगठन का दोनों वक्त डेढ़ सौ पैकेट बांटने का लक्ष्य है। रविवार को लगे जनता कफ्र्यू के दिन इस बस्ती के लोगों को पुलिस ने यह आश्वासन दिया था कि ओझा परिवारों के खाने की व्यवस्था की जाएगी। अभी क्रांतिकारी किसान मजदूर संगठन ने पंद्रह दिन की जिम्मेदारी ली है। आगे के दिनों के लिए अन्य संगठनों से आगे आने की उम्मीद की जा रही है।
------------------
इधर सही दाम, उधर ओवरचार्जिंग
फोटो-------आईसी२७१०
शहर में लॉक डाउन के चलते केवल 3 घंटे ही जरुरी सामानों की दुकानें खुल रही हैं। ऐसे में डिमांड ज्यादा बढ़ गई है जिससे सब्जी और किराना सामग्री पर भी ओवरचार्जिंग की शिकायतें आ रही हैं। बंगलिया में अतुल मालवीय नामक सब्जी विक्रेता ने आलू, प्याज, टमाटर जैसी सामग्री बिल्कुल सही दामों में परेशान लोगों को देकर उन दुकानदारों के लिए उदाहरण पेश किया जो पहले से ही परेशान लोगों की मजबूरी का फायदा उठाकर आलू ४०-५० रुपए, प्याज 50, टमाटर 30 से ४० रुपए किलो बेचकर इन हालातों में भी अपनी जेब गर्म कर रहे हैं। लोगों ने मांग की है कि किराना सामग्री व सब्जियों के दाम तय कर हर दुकानों पर सूची चस्पा की जाए।
---------------
निजी टैंकर से शहर में सेनेटाइजेशन
शहर में कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए जहां नगर प्रशासन लगा हुआ है वहीं अन्य लोग भी अपने स्तर से लगे हुए हैं। इसी कड़ी में पुरानी इटारसी निवासी एक किसान मुन्ना पटेल ने अपना निजी टेंकर सेनेटाइजेशन के लिए निकाला। उन्होंने निजी टेंकर से पुरानी इटारसी के साथ बाजार क्षेत्र में भी सेनेटाइजेशन किया।
----------------------

Rahul Saran Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned