तेइस साल से प्राथमिक स्कूल भवन में लग रहा हाई स्कूल

तेइस साल से प्राथमिक स्कूल भवन में लग रहा हाई स्कूल

Krishna Singh | Publish: Sep, 11 2018 10:13:34 AM (IST) Itarsi, Madhya Pradesh, India

- ढाई एकड़ जमीन है लेकिन नहीं है भवन
- भीलाखेड़ी में ऐसे हालात
- सूरजगंज में भी हैं ऐसे हालात

इटारसी. होशंगाबाद विकासखंड के अंतर्गत आने वाली भीलाखेड़ी ग्राम पंचायत में २३ साल पहले हाईस्कूल स्वीकृत हुआ था। स्कूल स्वीकृत होने के बाद गांव में स्कूल के भवन के लिए ढाई एकड़ जमीन भी पंचायत ने स्वीकृत कर दी थी। इसके बाद भी आज तक भवन नहीं बना है ऐसे में हाईस्कूल भवन के छात्र-छात्राओं को प्राथमिक स्कूल भवन में बैठकर पढऩा पड़ रहा है। स्थिति यह है कि बच्चों को बैठने की जगह भी नहीं है।

- २३ साल पहले खुला था हाईस्कूल
गांव में हाईस्कूल १९९५ में खुला था। जिस वर्ष से स्कूल खुला है तब से लेकर आज तक स्कूल प्राइमरी स्कूल के भवन में ही चल रहा है। स्कूल भवन नहीं होने से न मैदान है, न शौचालय। इस स्कूल की शैक्षणिक गतिविधियां किसी तरह से संचालित होती है लेकिन खेल गतिविधियां तो कभी होती ही नहीं है।

- प्राइमरी स्कूल भवन को होती है दिक्कत
प्राइमरी स्कूल बेहद पुराने कच्चे भवन में लग रहा है। प्राइमरी स्कूल के पास दो पक्के भवन है इसमें एक ही भवन का उपयोग हो पाता है जिस भवन में ज्यादा जगह है उसमें हाईस्कूल लगता है। ऐसे में प्राइमरी स्कूल में भी दिक्कत होती है।

- जर्जर हो गया है भवन
जो भवन है वह भी खस्ताहाल हो चुका है। इस भवन में बारिश के दिनों में छात्र-छात्राओं को बैठना मुश्किल हो रहा है। स्कूल के पूरे भवन में पानी टपकता है। खास यह है कि भवन में स्कूल स्टॉफ के बैठने तक के लिए जगह नहीं है।

- यहां छात्राएं ज्यादा रूम कम
सूरजगंज के शासकीय माध्यमिक में भी तीन रूम हैं। इस स्कूल में २५० से ज्यादा छात्राएं पढ़ रह हैं। इन छात्राओं के बैठने की भी जगह नहीं है। दो कक्षाएं भी इन रूमों में अच्छे से नहीं लग पाती है इसलिए बरामदे का उपयोग भी किया जाता है। हालात यह है कि टीचरों के बैठने तक की जगह भी नहीं हैं। स्कूल के प्रधानपाठक ने बताया कि उन्होंने शासकीस कन्या हायर सेकंडरी स्कूल के प्राचार्य से खाली पड़े रूम मांग चुके हैं लेकिन उन्हें खाली रूम नहीं दिए गए हैं।

- जिले में ३३ स्कूल है भवन विहीन
जिले में ३३ ऐसे स्कूल हैं जो भवन विहीन है। यह स्कूल प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल में लग रहे हैं। ऐसे में दूसरे बच्चों का पढऩा मुश्किल हो रहा है। सभी कक्षाओं के बच्चों की पढ़ाई बाधित हो रही है।
फैक्ट
प्राथमिक स्कूल- ११८३
माध्यमिक स्कूल- ५३१
हाईस्कूल व हायर सेकंडरी स्कूल - १४०
भवन विहीन- ३३

पंचायत ने ढाई एकड़ जगह स्वीकृत कर रखी है लेकिन शासन से स्कूल भवन स्वीकृत नहीं है। इसके लिए शासन स्तर पर पत्र भी भेज चुके हैं।
सुरभि सोलंकी, सरपंच भीलाखेड़ी

जिले में करीब ३३ भवन विहीन स्कूल हैं। इन स्कूलों में भवन बनना है। भीलाखेड़ी के लिए कलेक्टर महोदया के माध्यम पत्र आयुक्त कार्यालय भोपाल को भेजा जाएगा।
अनिल वैद्य, जिला शिक्षा अधिकारी होशंगाबाद

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned