scriptYellow gold sold at 2332 in Itarsi Mandi, highest price ever | इटारसी मंडी में पीला सोना 2332 पर बिका, अब तक की सर्वोच्च भाव | Patrika News

इटारसी मंडी में पीला सोना 2332 पर बिका, अब तक की सर्वोच्च भाव

- नगद भुगतान मिलने से किसान खुश, आवक भी बढ़ी।

इटारसी

Published: April 07, 2022 12:22:00 pm

इटारसी। नर्मदापुरम जिले की ए ग्रेड इटारसी कृषि उपज मंडी में बुधवार को पीला सोना यानि गेंहू ने अब तक के सारे रिकार्ड तोड़ते हुए 2332 रुपए के सर्वोच्च भाव को छू डाला। इस भाव को देखते हुए किसानों में उत्साह दिखने लगा। इसकी वजह किसानों को 02 लाख रुपए का नगद भुगतान मिल रहा है। इससे पहले 25 मार्च को 2303 रुपए पर बिका था। इस रिकार्डतोड़ भाव से मंडी प्रशासन भी खुश दिखा। इसके साथ ही मंडी में आज 15 बोरी गेंहू की आवक हुई।
Yellow gold sold at 2332 in Itarsi Mandi, h

मंडी के अधिकारियों ने बताया कि इस साल सरकार ने गेंहू का समर्थन मूल्य 2015 रुपए घोषित किया है, लेकिन शासन ने फसल बिकते ही किसानों को नगद भुगतान करने के आदेश का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। इससे किसान उत्साहित है, क्योंकि उसे फसल बेचते ही आरटीजीएस के माध्यम से दो लाख रुपए का नकद भुगतान कुछ ही मिनटों में उसके खाते में पहुंच रहा है। इस वजह से किसानों का रूझान अब मंडी में गेंहू लाकर बेचने के प्रति बनने लगा है।

इटारसी कृषि मंडी में गेंहू 25 मार्च को पहले दिन आया था, जिसका भाव 2304 रुपए पर बिका। इसके बाद 29 मार्च तक भाव नीचे उतरकर 2200, 2150 रुपए तक गया। इस बीच चार दिन तक मंडी में त्योहारी अवकाश के चलते खरीदी बंद रही। 4 अप्रैल से पुन: मंडी खुली। जिसमें उच्चतम भाव 2020 रुपए पर बिका। इस दिन 20 हजार बोरी की आवक हुई। मगर 05 अप्रैल को भाव 2025 रुपए रहा। इस दिन 14 हजार बोरी की आवक हुई।

खरीदी केंद्र ना खुलने से किसान पहुंचे मंडी


जिले के 80 फीसदी खरीदी केंद्र निर्धारित तिथि 4 अप्रैल से अभी तक नहीं खुल पाएं। इन केंद्रों में नागरिक आपूर्ति निगम खरीदी कर रही है। इसके कारण किसानों का झुकाव मंडी की ओर जाने लगा। किसान संघ के प्रवक्ता रजत दुबे ने बताया कि चूंकि मूंग की फसल बोनी है। इसलिए किसानों को अभी पैसे की जरूरत है। सरकार ने दो लाख रुपए के तत्काल नगद भुगतान की जो व्यवस्था बनाई है, उससे किसान का रूझान मंडी की ओर बढ़ा है। इसके कारण किसान उत्साहित होकर बड़ी संख्या में बुधवार को मंडी पहुंचे। आज उच्चतम भाव 2332 रुपए क्विंटल पर गेंहू बिका, वही आवक भी पुन: बढ़कर 15379 बोरी रही।

मंडी में फसलों के उच्चतम भाव इस प्रकार रहे -गेंहू 2332, चना 4860, तुअर 5995, उड़द 2500, सरसो 6400, सोयाबीन 7100, धान 3265 और मूंग 6460 रुपए।


वर्जन


इटारसी मंडी में किसान फसल लाकर बेचने को उत्साहित दिख रहे हैं। क्योंकि उन्हें उच्च भाव के साथ भुगतान भी तुंरत मिल रहा है। मंडी प्रबंधन ने भी किसानों को हरसंभव मदद कर रही है। उनकी सुविधाओं का ध्यान रखी है। वही व्यापारी, हमाल और किसानों में समन्वय अच्छा होने से किसान को लाभ मिल रहा है।
- राजेश मिश्रा, सचिव, कृषि उपज मंडी, इटारसी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करारInflation Around World : महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचारपंजाब में दिल्ली का विकास मॉडल, CM भगवंत मान का ऐलान- 15 अगस्त को राज्य को मिलेंगे 75 नए मोहल्ला क्लीनिकराहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'पैंगोंग झील के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सरकार सिर्फ निगरानी ही कर रही है'दो साल बाद अपनों के बीच पहुंचते ही आजम खान ने बयां किया दर्द, बोले- मेरे साथ जो-जो हुआ वो भूल नहीं सकतापहली बार Yogi आदित्यनाथ की तारीफ में बोले अखिलेश यादव 'यूपी में Technology'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.