Decision in meeting : नगर में सवा लाख व ग्रामीण क्षेत्र में 25 हजार पौधों का होगा रोपण- देखें वीडियो

पौधरोपण की तैयारियां व वाटर हार्वेस्टिंग को लेकर विचार मंथन, संभागायुक्त ने कहा प्रशासन अपने स्तर पर उठाएगा सभी आवश्यक कदम

By: tarunendra chauhan

Published: 19 Jun 2019, 06:44 PM IST

Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

जबलपुर. शहर में सवा लाख व ग्रामीण क्षेत्र में पैंसठ हजार पौधे रोंपे जाएंगे। मदनमहल पहाड़ी व डुमना नेचर पार्क में 25-25 हजार पौधे रोंपे जाएंगे। इसके अलावा उद्यानों, रोड डिवाइडर व अन्य खाली पड़ी शासकीय जमीन पर पौधे रोंपे जाएंगे। ये जानकारी जिले में पौधरोपण को लेकर बुधवार को मानस भवन में आयोजित कार्यशाला में दी गई। बताया गया कि पौधरोपण के लिए सामाजिक, शैक्षणिक संस्थाओं के साथ स्वयंसेवी संगठनों की भी मदद ली जाएगी। कार्यशाला में संभागायुक्त राजेश बहुगुणा ने कहा कि जबलपुर की हरियाली और यहा का सुरम्य वातावरण ही शहर की पहचान है। ये संदेश हर व्यक्ति तक पहुंचाना होगा। उन्होंने कहा कि पिछले सालों में एनएच के किनारे से सालों पुरापने पेड़ कट गए। उनकी भरपायी आवश्यक है इसके लिए एनएच के डायरेक्टर के साथ बैठक की है, जिससे वृहद स्तर पर पौधरोपण हो। कार्यशाला में शहर के बढ़ते तापमान, गिरते भू जल स्तर को लेकर भी चिंता जताई गई।
पौधरोपण के साथ संरक्षण भी हो

कलेक्टर भरत यादव ने कहा कि पौधरोपण के साथ ही उनका संरक्षण व बाद में संस्थागत स्तर पर ऑडिट भी किया जाए। उन्होंने कहा कि पिछले सालों में जो पेड़ काटे गए उनके एवज में जो राशि जमा है उसका भी उपयोग किया जाएगा। पौधरोपण के लिए रजिस्ट्रेशन कराने जिला प्रशासन व नगर निगम की वेबसाइट पर कॉमन प्लेटफार्म भी तैयार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वाटर हार्वेस्टिंग समय की बड़ी मांग है। इसके लिए नगर में स्थित केन्द्रीय शासन व राज्य शासन दोनों के कार्यालयों के प्रमुखों को निर्देशित करेंगे। अलग-अलग परिसर व उनकी टोपोलॉजी के हिसाब से वाटर हार्वेस्टिंग के लिए ड्राइंग-डिजाइन तैयार कराई जा रही है।

 

सीसीएफ आरडी माला, डीएफओ रविन्द्रमणि त्रिपाठी व नगर निगम अपर आयुक्त जीएस नागेश ने भी पौधरोपण की तैयारियों के संबंध में जानकारी दी। कार्यशाला में डॉ जितेन्द्र जामदार, संस्कार कांवड़ यात्रा के शिव यादव, प्राध्यापक आनंद राणा ने भी पौधरोपण को लेकर आवश्यक सुझाव दिए। कार्यशाला में कदम संस्था, वॉक एंड क्लीन समेत शहरभर की प्रमुख सामाजिक व शैक्षणिक संस्थाओं के प्रमुख शामिल हुए। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ रजनी सिंह, अपर कलेक्टर डॉ राहुल फटिंग, सलोनी सिडाना व अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned