देना बैंक में 24 लाख की डकैती में यूपी के बहराइच से गिरफ्तार हुआ आरोपी अफजाल

अधारताल की पुलिस टीम उसे रिमांड पर लेने रवाना

By: santosh singh

Updated: 19 Mar 2020, 11:49 AM IST

जबलपुर. अधारताल थानांतर्गत देना बैंक में वर्ष 2004 में दिन-दहाड़े डकैती के मामले में सजा के बाद से फरार चल रहे आरोपी अफजाल को बहराइच (यूपी) पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसे ट्रांजिट रिमांड पर जबलपुर लाने के लिए अधारताल पुलिस को रवाना किया गया है। इस प्रकरण के एक आरोपी ने जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट में प्रकरण लगा रखा है।
2004 में हुई थी डकैती
जानकारी के अनुसार 22 नवम्बर 2004 को बहराइच निवासी अफजाल ने पत्नी, भाई सुल्तान उर्फ पप्पू, हनुमानताल निवासी जमालुद्दीन, सादाब, इजराइल, मंडला निवासी नौशाद, मंडला निवासी इरशाद, फरीदाबाद हरियाणा निवासी इम्तियाज के साथ मिलकर देना बैंक में डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। सुबह दस बजे बैंक जैसे ही खुला, असलहे से लैस डकैत कार से पहुंचे और बैंक में धड़धड़ाते हुए घुस गए। सुरक्षा गार्ड सहित बैंक में पहुंचे कुछ ग्राहकों से मारपीट कर बंधक बना लिया। डकैतों ने 24.41 लाख रुपए की लूट की थी।
बहराइच में हुआ गिरफ्तार
बैंक के तत्कालीन ब्रांच मैनेजर शरद बैनर्जी की शिकायत पर पुलिस ने डकैती, साजिश रचने, आम्र्स एक्ट का प्रकरण दर्ज किया था। इस प्रकरण में आरोपियों को आजीवन कारावास और कारावास की सजा सुनाई जा चुकी है। अफजाल तब से फरार था। दो दिन पहले बहराइच पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया, तो इसकी जानकारी जबलपुर एसपी को दी।
पत्नी की डिमांड पूरी करने के लिए बना डकैत
पुलिस के अनुसार अफजाल ने प्रेम विवाह किया था। वह वारदात के समय जबलपुर के हनुमानताल क्षेत्र में किराए से रहता था। पत्नी की डिमांड पूरी करने के लिए वह लूटपाट करने लगा और फिर डकैती की वारदात को अंजाम दिया। देना बैंक डकैती की वारदात का खुलासा बहुत बाद में तब हुआ, जब उत्तराखंड के अल्मोड़ा की पुलिस ने अफजाल को गिरफ्तार किया। पूछताछ में उसने जबलपुर में देना बैंक डकैती की वारदात का खुलासा किया था।
वर्जन-
अधारताल के देना बैंक डकैती प्रकरण के आरोपी अफजाल को बहराइच पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एक टीम यहां से बहराइच भेजी गई है।
अमित सिंह, एसपी

 

Show More
santosh singh Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned