scriptAction on collector's Ration transport company,shopkeepers | दुकान छोड़कर घर पर उतरता है गरीबों का राशन | Patrika News

दुकान छोड़कर घर पर उतरता है गरीबों का राशन

गरीबों के अनाज को राशन दुकान की जगह किसी और जगह पर उतारने की घटनाओं को देखते हुए परिवहनकर्ता त्रिवेदी ट्रांसपोर्ट कंपनी पर प्रशासन ने कड़ी कार्रवाई की है। कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी. ने परिवहन के कार्य में अनियमितताएं पाए जाने पर परिवहन के काम पर फिलहाल रोक लगा दी है। वहीं राशन प्रदाय में रुकावट नहीं आए, इसलिए दुकानदारों को खुद ही गोदामों से खाद्यान्न उठाने का आदेाश किया है। सोमवार को दुकानदार अपनी व्यवस्था से वेयरहाउस पहुंचे।

जबलपुर

Published: June 14, 2022 11:56:01 am

जबलपुर@ज्ञानी रजक.शहर की सभी शासकीय उचित मूल्य यानि राशन दुकानों में प्राथमिक एवं अन्त्योदय परिवारों को खाद्यान्न, नमक और शक्कर का वितरण किया जाता है। इस काम के लिए मध्यप्रदेश् सिविल सप्लाई कारपोरेशन लिमिटेड ने त्रिवेणी ट्रांसपोर्ट कंपनी को इन दुकानों तक उक्त सामग्री पहुंचाने के लिए अनुबंध किया है। लेकिन ऐसे कई मौके आए जब कंपनी के कर्मचारियों ने राशन दुकानों की जगह कई क्विंटल गेहूं, चावल और शक्कर को निर्धारित स्थान की जगह दूसरी जगह रख दिया।

Madhya Pradesh warehousing  Corporation
In view of the incidents of unloading of food grains of the poor at some other place instead of ration shop, the administration has taken strict action against the transporter Trivedi Transport Company. Collector Dr. Ilaiyaraaja T. has stopped the transport work

प्रशासन ने इसे घोर अनियमितता मानकर कंपनी पर मध्यप्रदेश सार्वजनिक वितरण प्रणाली (नियंत्रण) आदेश, 2015 के तहत कार्रवाई की है। इसी प्रकार दूसरी वैधानिक कार्यवाही भी की जा रही है। इस बीच गरीबों को राशन मिलने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आए, इसलिए कलेक्टर ने आदेश में कहा कि मध्यप्रदेश् सिविल सप्लाई कारपोरेशन लिमिटेड कि प्रदाय केंद्रों से राशन दुकान संचालक खाद्यान्न उठाएंगे। उन्हें परिवहन पर होने वाले व्यय की रा शि निर्धारित दरों पर दी जाएगी।

एक लाख क्विंटल से ज्यादा उठाव

जिले में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत जिले में करीब 991 राशन दुकानें संचालित की जाती हैं। शहरी क्षेत्र में 446 और ग्रामीण क्षेत्र में 545 दुकानों का संचालन होता है। इन दुकानों में तीन लाख 65 हजार से ज्यादा परिवार और लगभग 13 लाख 35 हजार हितग्राही हैं। इनमें शहरी क्षेत्र में परिवहन का काम त्रिवेणी ट्रांसपोर्ट कंपनी के पास है।

हाल में पकड़ा था मामला

जन सहकारी उपभोक्ता भंडार की फूटाताल िस्थत शासकीय उचित मूल्य की दुकान 3316076 के लिए करीब 120 बोरी गेहूं का परिवहन होना था। दुकान संचालक अब्दुल मेहमूद रंगरेज ने दुकान की जगह अपने घर में खाद्यान्न उतरवा लिया। इस पर रंगरेज के खिलाफ एफआइआर भी दर्ज की गई थी। इसमें परिवहन कंपनी की भी गलती सामने आई थी।

दुकान छोड़कर घर पर उतरता है गरीबों का राशनफैक्ट फाइल

- जिले में 991 राशन दुकान संचालित।

- 446 दुकानें शहरी व 545 ग्रामीण क्षेत्र में।

- हर महीने करीब एक लाख क्विंटल खाद्यान्न का वितरण।

- 3 लाख 65 हजार हैं जिले में पात्र परिवार।
- 13 लाख 35 हजार से ज्यादा हैं हितग्राही।

राशन दुकान की जगह दूसरे स्थान पर खाद्यान्न उतारने के मामले में त्रिवेणी ट्रांसपोर्ट कंपनी के खिलाफ प्रतिवेदन कलेक्टर के पास भेजा था। फिलहाल कंपनी से परिवहन नहीं कराया जा रहा है। संचालकों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई जाएगी। राशन दुकानों में सप्लाई की वैक ल्पिक व्यवस्था के तहत दुकानादारों को ही प्रदाय केंद्र भेजा रहा है।
नुजहत बकाई, जिला आपूर्ति नियंत्रक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

BJP के नए संसदीय बोर्ड और चुनाव समिति का गठन, गडकरी व शिवराज की छुट्टी, देखिए कौन-कौन नेता शामिलकिडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, सरेंडर वाले दिन ही ली शपथ, नीतीश बोले-मुझे जानकारी नहींदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, पूछा - आजादी के 75 वर्ष बाद भी हम बाकी देशों से पीछे क्यों?सुप्रीम कोर्ट ने 'रेवड़ी कल्चर' के खिलाफ सभी पक्षों से मांगे सुझाव, 22 अगस्त तक दिया वक्तशिवमोगा तनाव पर कर्नाटक BJP नेता केएस ईश्वरप्पा का विवादित बयान- मुस्लिम यहां शांति से रहे या पाकिस्तान चले जाएंMumbai News: मुंबई में डेंगू, मलेरिया और Swine Flu का तांडव जारी, 7 महीने के भीतर स्वाइन फ्लू से 43 लोगों की मौतICC ने जारी किया '2023-27 FTP' का पूरा कार्यक्रम, देखिए टीम इंडिया का पूरा शेड्यूलकेरल कोर्टः यौन उत्पीड़न की शिकायत पहली नजर में नहीं टिकेगी, जब महिला ने 'यौन उत्तेजक' पोशाक पहनी हो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.