एयर सेपरेशन यूनिट में फंसा ये पेंच, यहां बन रहा 20 बिस्तर वाला प्रदेश का पहला प्री मेड वार्ड

एयर सेपरेशन यूनिट में फंसा ये पेंच, यहां बन रहा 20 बिस्तर वाला प्रदेश का पहला प्री मेड वार्ड

By: Lalit kostha

Updated: 09 May 2021, 02:57 PM IST

जबलपुर। नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज में कोरोना आपदा से निपटने के लिए तैयार किए जा रहे एयरबलून के एसी कोविड वार्ड का काम अभी तक पूरा नहीं हो सका है। प्रीमेड वार्ड बनाने वाले एजेंसी ने तीन दिन में काम पूरा कर कोरोना मरीजों के उपचार के लिए इसे खोलने का दावा किया था। लेकिन आठ दिन बीतने के बाद भी कोविड मरीजों के लिए प्रीमेड वार्ड तैयार नहीं हो सका है। इस वार्ड में भर्ती होने वाले मरीजों के लिए ऑक्सीजन भी वहीं तैयार होना है। बताया जा रहा है कि वार्ड में ऑक्सीजन बनाने की लगाई जाने वाली एयर सेपरेशन यूनिट विदेश से मंगाई गई है। यूनिट कस्टम क्लीयरेंस में अटक गई है। इसके समय पर नहीं मिल पाने से वार्ड का बाकी कार्य पूरा होने के बाद भी उसमें मरीजों का उपचार प्रारंभ नहीं हो पा रहा है।

टेंट बनाया, पलंग-बिस्तर बिछाया
कॉलेज परिसर में स्कूल ऑफ एक्सीलेंस इन पलमोनरी मेडिसिन की पार्किंग में इनफ्लैटेबल स्ट्रक्चर मटेरियल से बनें इस प्री मेड वार्ड को खड़ा कर दिया गया है। बिजली, पानी सहित अन्य व्यवस्थाएं जुटा ली गई हैं। इंटीरियर व पलंग-बिस्तर भी लगा दिया गया है। लेकिन कुछ चिकित्सकीय उपकरण के साथ कोरोना मरीजों के उपचार में अहम ऑक्सीजन के लिए यूनिट की
कमी है।

जम्बो सिलेंडर का जुगाड़
एयर सेपरेशन यूनिट सम्बंधी उपकरण के कस्टम क्लियरेंस में फंसने से इसके मिलने में अभी चार-पांच का समय लग सकता है। इसके कारण एजेंसी ने ऑक्सीजन के वैकल्पिक व्यवस्था की कवायद शुरू कर दी है। जरूरत पडऩे पर अभी जम्बो सिलेंडर के जरिए ऑक्सीजन देने पर विचार किया जा रहा है। इसके लिए एजेंसी जरूरी संसाधन भी जुटाने का प्रयास कर रही है।


अस्थाई कोविड वार्ड की स्थिति
89.65 लाख रुपए की लागत
20 बिस्तर होंगे मरीज के लिए
03 दिन में तैयार होना था
08 दिन बाद भी काम अधूरा

ये है प्रीमेड वार्ड में विशेषता
कम्प्लीट एयरकंडीशनिंग
पीटी-पीआरओ, ऑक्सीमैक्स के साथ ऑक्सीजन
सक्शन लाइन और सेंट्रल मशीन
बेड साइड लॉकर
ड्रिप सेट
हाई कार्डिक टेबल
पोर्टेबल टॉयलेट केबिन
तीन सीटर टॉयलेट
दो वॉशरूम
पोर्टेबल-एडजेस्टेबल टेंट

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned