सीओडी की एक वर्ष बाद एके-47 मामले में टूटी नींद

सीओडी की एक वर्ष बाद एके-47 मामले में टूटी नींद
AK-47 rifle stolen from COD Jabalpur

Santosh Kumar Singh | Updated: 11 Sep 2019, 09:10:00 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

AK-47 rifle case:एफआईआर दर्ज कराने एसपी को लिखा पत्र, पिछले साल 10 जुलाई को सीओडी में सुरक्षा कर्मियों ने सुरेश ठाकुर को एके-47 के पाट्र्स के साथ पकड़ा था

जबलपुर. सेंट्रल आर्डिनेंस डिपो (सीओडी) की एके-47 (AK-47 rifle) पाट्र्स के साथ पकड़े गए तत्कालीन सीनियर स्टोर मैनेजर सुरेश ठाकुर के मामले में एक वर्ष बाद नींद टूटी है। विभाग ने पहले भले ही सुरेश ठाकुर को माफीनामे पर छोड़ देने का जवाब दिया था, लेकिन अब वह इस मामले में रांझी थाने में एफआईआर (FIR) दर्ज कराना चाहती है। हालांकि विभाग ने इसके लिए जरूरी वैधानिक प्रक्रिया पूरी नहीं की, जिसके चलते मामला अटक गया है। इसी सीओडी से पाट्र्स के रूप में 70 से अधिक एके-47 राइफल (rifle) चोरी प्रकरण में बाद में गोरखपुर व क्राइम ब्रांच की टीम ने सुरेश ठाकुर, पुरुषोत्तम रजक, उसकी पत्नी व बेटे को गिरफ्तार किया था।
15 जुलाई को एसपी को भेजा COD ने पत्र
जानकारी के अनुसार सीओडी (cod) के प्रशासनिक अधिकारी की ओर से 15 जुलाई को एक पत्र पुलिस अधीक्षक को भेजा गया था। पत्र में उल्लेख किया गया है कि विभाग एके-47 पाट्र्स के साथ पूर्व में सुरक्षा गार्डों की ओर से पकड़ा गया था। इस मामले में सीनियर स्टोर मैनेजर सुरेश ठाकुर के खिलाफ रांझी थाने में एफआईआर दर्ज कराई जाए।
दूसरे गिरोह के खिलाफ विभागीय जांच में हो चुकी है पुष्टि
इसी पत्र में सीओडी ने अपने यहां पदस्थ रहे आरके शर्मा व एसके खत्री सहित अन्य के खिलाफ ऐसे ही दूसरे प्रकरण में भी शिकायत दर्ज कराने की बात कही है। इन लोगों से सीओडी में इंसास, एसएलआर, पिस्टल सहित अन्य असलहों के 148 पाट्र्स जब्त किए गए थे। इसकी विभागीय जांच में भी पुष्टि हो चुकी है। इस मामले को लेकर 14 अगस्त 2018 को भेजे गए पत्र का हवाला दिया है, जिसमें इसकी जानकारी दी गई थी।
सीओडी ने इन बिंदुओं नहीं दी जानकारी-
-इस पत्र के जवाब में पुलिस की ओर से सीओडी को 18 जुलाई को जवाब भेजा कई बिंदुओं पर जानकारी मांगी थी। इसकी जानकारी अब तक नहीं मिली।
-सुरेश ठाकुर के प्रकरण में पाट्र्स जब्त करने वाले सुरक्षा कर्मी, विभागीय जांच की रिपोर्ट, स्टॉक रजिस्टर की मूल प्रति पेश करें।
-सुरेश ठाकुर के प्रकरण में गोरखपुर में अपराध क्रमांक 588/18 दर्ज है। बयान में उसने सीओडी में पकड़े जाने का उल्लेख किया है, इस कारण उक्त प्रकरण की शिकायत उसी में मर्ज करानी होगी।
-इंसास, एसएलआर, पिस्टल सहित अन्य उपकरणों के साथ पकड़े गए आरके शर्मा व एसके खत्री के प्रकरण में रांझी थाने में अलग से शिकायत दर्ज करा सकते हैं।
-इसके लिए पाट्र्स को जब्त करने वाले अधिकारी का नाम, वर्तमान पदस्थापना, स्टॉक रजिस्टर की मूल प्रति, विभागीय जांच की सत्यापित प्रति रांझी थाने में पेश करें।
70 से अधिक एके-47 चोरी के मामले में ये दी है जानकारी
सीओडी ने पाट्र्स के रूप में 70 से अधिक चोरी गई एके-47 राइफल के मामले में बताया है कि उसके यहां चार सितम्बर 2019 को विभागीय तौर पर स्टॉक का मिलान कराया गया था। जिसमें सब कुछ सही पाया गया है। एनआईए द्वारा सीओडी को 18 एके-47 राइफलों का आर्सलर नम्बर भेजा गया है, इसकी भी जानकारी अब तक सीडीओ ने नहीं भेजा है।
वर्जन-
सीओडी के प्रशासनिक विभाग की ओर से एफआईआर दर्ज कराने के लिए पत्र भेजा गया था। जिसके जवाब में र्मंने दस्तावेजों के साथ एफआईआर दर्ज कराने के लिए किसी को भेजने के लिए कहा है। अभी तक दस्तावेज के साथ कोई नहीं आया है।
अमित सिंह, एसपी, जबलपुर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned