तुम सुंदर हो, रीडर को प्रेमजाल में फंसा लो, मालामाल कर दूंगा

तहसीली कार्यालय में कार्यरत महिला लिपिक के बैग में 50 हजार के साथ मिले गुमनाम लेटर से मचा हडक़म्प, कलेक्टर के निर्देश पर बेलबाग थाने में दर्ज करायी गई एफआइआर

By: santosh singh

Published: 07 Jul 2019, 12:20 PM IST

जबलपुर। ‘तुम सुंदर हो, एसडीएम के रीडर को प्रेमजाल में फंसा कर मेरा काम करा दो, मालामाल कर दूंगा। अब तक मेरा डेढ़ करोड़ का नुकसान करा चुका है। मेरी फाइल आगे नहीं बढ़ी तो मैं कंगाल हो जाऊंगा। रीडर की सुंदर महिला कमजोरी है। मेरा काम नहीं हुआ तो मैं आत्महत्या कर लूंगा। मैं बर्बाद हुआ तो किसी को नहीं छोडंूगा।’ कुछ ऐसे ही मजमून भर पत्र ने तहसीली कार्यालय में हडंकम्प मचा दिया। ये लेटर महिला कर्मी के बैग में 50 हजार नोटों की गड्डियों के साथ मिला। कलेक्टर के निर्देश पर महिला कर्मी ने बेलबाग थाने में एफआइआर दर्ज करायी है।
लोकायुक्त कार्रवाई के अंदेशे से मचा हडक़म्प
सुबह 11 बजे तहसीली कार्यालय में पदस्थ महिला लिपिक के बैग में शनिवार को 50 हजार रुपए नकद और दो पेज का एक धमकी भरा पत्र मिलने से सनसनी मच गई। लोकायुक्त की कार्रवाई का अंदेशा व्यक्त करते हुए सहकर्मियों ने महिला के हाथ तक धुलवा डाले। इसके बाद प्रकरण से अधिकारियों को अवगत कराया। रात 8.37 बजे महिला लिपिक ने कलेक्टर के निर्देश पर बेलबाग थाने पहुंची और मामले में धारा 509, 506बी 166, 116, 186 आइपीसी का प्रकरण दर्ज कराया।
सीट से पल भर के लिए हटी, लौटी तो बैग में मिली नोटों की गड्डियां
शहर निवासी 35 वर्षीय महिला तहसील कार्यालय में सहायक ग्रेड-3 के पद पर कार्यरत है। सुबह 11 बजे वह किसी काम से सीट छोडकऱ कुछ देर के लिए गई थी। लौटी तो बैग खुला मिला। बैग में 50 हजार रुपए और दो पेज का लेटर रखा था।
कलेक्टर तक पहुंचा मामला, फिर एफआइआर
उसमें एसडीएम के रीडर को प्रेमजाल में फंसाने की बात लिखी गई थी। लेटर लिखने वाले के मुताबिक रीडर की वजह से उसका डेढ़ करोड़ का नुकसान हुआ है। उसका काम रीडर की वजह से अटका है। काम नहीं होने पर वह सडक़ पर आ जाएगा। लेटर पढऩे के बाद महिला ने सहकर्मियों को बताया। एसडीएम नम: शिवाय अरजरिया तक बात पहुंची। फिर कलेक्टर के निर्देश पर वह थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंची।

 

Show More
santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned