लेडी हॉस्पिटल में कोहराम, हथियार बंद युवकों ने किया कुछ ऐसा कि दहल गईं डॉक्टर्स

लेडी हॉस्पिटल में कोहराम, हथियार बंद युवकों ने किया कुछ ऐसा कि दहल गईं डॉक्टर्स

Prem Shankar Tiwari | Publish: Oct, 13 2018 09:11:12 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 09:11:13 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

डॉक्टर्स को खुलेआम दी जान से मारने की धमकी

जबलपुर। एल्गिन अस्पताल में एक मरीज के परिजन के बुलाने पर आए करीब 25-30 युवाओं ने शुक्रवार आधी रात को जमकर गुंडागर्दी की। तलवार, बेसबॉल के डंडे से लैस युवाओं ने महिला डॉक्टर्स को अपशब्द कहे। उन्हें जान से मारने की धमकी दी। उसके बाद अस्पताल परिसर के अंदर और बाहर जमकर तोडफ़ोड़ मचाई। करीब आधे घंटे तक हंगाम करने के बाद युवक भाग निकले। इस दौरान लेडी डॉक्टर्स और मरीज दहशत में रहे। वारदात की जांच के लिए सिविल लाइंस पुलिस शनिवार को सुबह पहुंची।

ड्यूटी डॉक्टर से अभद्रता
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रांझी, सीओडी गेट के पास निवासी नंदन बिरहा की पत्नी करूणा को प्रसव पीड़ा होने पर 11 अक्टूबर को अस्पताल में भर्ती किया गया था। शुक्रवार की देर रात ड्यूटी डॉक्टर रश्मि भटनागर ने महिला मरीज की जांच के बाद परिजनों को बच्चे की धड़कन कुछ कम मिलने की जानकारी दी। इस बात को सुनते ही परिजन बिफर पड़े। वे लेडी डॉक्टर को अपशब्द करते हुए उनसे उलझ पड़े। विरोध करने पर मरीज के परिजन ने फोन करके करीब 25-30 युवाओं को बुला लिया। हथियारों से लैस युवाओं ने पहुंचने के साथ ही अस्पताल परिसर में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी।

चिकित्सकों में रोष
अस्पताल में आधी रात को उपद्रवियों के खुलकर उत्पात मचाने के बावजूद पुलिस करीब एक घंटे बाद मौके पर पहुंची। पुलिस के देर से पहुंचने के कारण आरोपित वारदात को अंजाम देकर आराम से चले गए। इस घटना के बाद महिला चिकित्सकों में रोष है। उन्होंने साथी डॉक्टर को जान से मारने की धमकी देने वाले बदमाशों को गिरफ्तार करने की मांग की है। स्पष्ट कहा है कि अस्पताल में सुरक्षा की गारंटी नहीं होने पर मरीजों को सेवाएं नहीं दे पाएंगे। सिविल लाइंस पुलिस के अनुसार अस्पताल प्रबंधन की शिकायत पर आरोपितों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया है। अस्पताल के सीसीटीवी की रेकॉर्डिंग देखी है। आरोपितों के चेहरे पहचान कर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

--------------------------

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned