ATM cloning करने वाले गैंग सक्रिय, आपकी ये लापरवाही कर देगी कंगाल,देखें वीडियो

जबलपुर क्राइम ब्रांच ने पनागर से गैंग के एक गुर्गे को दबोचा, यूपी प्रतापगढ़ का है गैंग

 

जबलपुर. शहर में एटीएम क्लोनिंग कर लोगों के खाते से रकम निकालने वाले गैंग का लिंक एक बार फिर यूपी के प्रतापगढ़ जिले से जुड़ा है। क्राइम ब्रांच ने अधारताल व पनागर पुलिस के साथ मिलकर गिरोह के एक गुर्गे को पनागर से दबोच लिया। उसके छह साथी पुलिस को चकमा देकर भागने में सफल रहे। पुलिस ने आरोपी की कार और उसमें रखे एक लैपटॉप, एक स्कैमर, एक चार्जर, 32 पुराने व नए एटीएम, दो मोबाइल और 10 हजार रुपए जब्त कर लिए। इससे पहले ओमती पुलिस ने भी एटीएम क्लोनिंग करने वाला प्रतापगढ़ का गैंग पकड़ा था।


 

 

ऐसे करते थे एटीएम क्लोनिंग
एटीएम के स्वाइप में कुछ ऐसा फंसा देते थे कि कार्ड काम न करें। फिर स्काईप कैमरा ऑन कर इस गैंग के गुर्गे एटीएम में पैसे निकालने गए लोगों से मदद के बहाने एटीएम ले लेते थे। उसका एटीएम बदल कर स्कैमर से कॉपी कर लेते थे। उसका गोपनीय पिन रिकॉर्ड कर लेते थे। इसके बाद स्कैमर को लैपटॉप से कनेक्ट कर विशेष सॉफ्टवेयर की मदद से एटीएम कार्ड की कॉपी किए गए डाटा को दूसरे किसी भी एटीएम कार्ड में ओवरकॉपी कर देते थे। फिर इस क्लोन एटीएम की मदद से किसी दूसरे शहर में जाकर रात 12 से एक बजे के बीच रकम निकाल लेते थे। इस गैंग ने मुम्बई, रायपुर, बालाघाट, सिवनी, मंडला, डिंडोरी, रीवा, कटनी, सतना, छिंदवाड़ा आदि शहरों में भी इसी तरह की वारदात को अंजाम दिया है।

atm1.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

अधारताल में दर्ज दो एटीएम क्लोनिंग के प्रकरण
एसपी अमित सिंह ने सोमवार को पुलिस कंट्रोल रूम में मामले का खुलासा करते हुए बताया कि अधारताल थाने में चार जनवरी को मंटा डेयरी निवासी जनार्दन सिंह और पांच जनवरी को सीओडी कॉलोनी सुहागी निवासी विक्रांत शर्मा ने एटीएम का क्लोन बनाकर 60 हजार रुपए निकाले जाने का प्रकरण दर्ज कराया था। जनार्दन के खाते से जहां 26 व 27 अगस्त 2019 के बीच 50 हजार रुपए निकले थे। वहीं विक्रांत के खाते से 23 दिसम्बर को पैसे निकले थे। दोनों ही मामलों में एटीएम के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों का पता लगाया गया।

atm.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

पनागर से दबोचा गया आरोपी
एसपी अमित सिंह ने बताया कि क्राइम एएसपी शिवेश सिंह की टीम ने रविवार को पनागर कस्बे में दबिश देकर कार एमएच 03बीसी 9998 में सवार तिलौरी सगरा सुंदरपुर प्रतापगढ़ (यूपी) निवासी अब्दुल कलाम खान को दबोच लिया। उसके छह अन्य साथी पुलिस को देखते ही भाग निकले। उनकी पहचान अब्दुल के भाई सैय्यद खान उर्फ शहजाद, रिश्तेदार सगरा सुंदरपुर निवासी ओमप्रकाश जायसवाल व नसीरूद्दीन, पतुर्की गांव निवासी आरिफ खान व वसीम, मकई गांव निवासी जाहिद अली के तौर पर हुई।

Show More
santosh singh Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned