जबलपुर का दुर्भाग्य: 30 साल में शहर को मात्र चार नई सडक़ें, नौ का है इंतजार

13 सडक़ों का होना था निर्माण, कई का काम तक शुरू नहीं हुआ

 

By: Lalit kostha

Published: 14 Sep 2021, 04:17 PM IST

प्रभाकर मिश्रा@जबलपुर/ नगर की आबादी बढ़ रही है, उसी अनुपात में वाहनों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। लेकिन शहरवासियों को नई चौड़ी सडक़ें नसीब नहीं हो रही हैं। मौजूदा सडक़ों पर यातायात का दबाव बढ़ता जा रहा है। यातायात को सुगम बनाने के लिए शहर में तेरह नई सडक़ों का निर्माण होना है। इनमें चार एमआर व नौ एसआर सडक़ शामिल हैं। लेकिन, तीसरे मास्टर प्लान की अवधि बीतने को है पर इस अवधि में इनमें से महज चार ही नई सडक़ों का निर्माण हुआ है। कई सडक़ तय लम्बाई के मुकाबले महज एक चौथाई ही बन सकी हैं। जानकारों की मानें तो इसके लिए मुख्य रूप से निर्माण एजेंसी जेडीए जिम्मेदार है। प्राधिकरण की विकास योजनाओं में गति बहुत ही धीमी रही है। नई बनी सडक़ों में कछपुरा ओवरब्रिज से मदन महल स्टेशन लिंक रोड को शामिल कर लिया जाए तो नई निर्मित सडक़ों की संख्या पांच हो जाती है। इन्हें मिलाकर नगर के विशिष्ट मार्गों की संख्या 63 हो गई है।

इन सडक़ों का निर्माण
पिछले तीन दशक में शहर का विस्तार तो हुआ, लेकिन शहरवासियों को केवल पांच ही नई सडक़ मिलीं। इनमें एमआर 4 सडक़ कछपुरा से माढ़ोताल के बीच 3.84 किमी लम्बी सडक़ प्रमुख है। इसके अलावा एसआर 6 सडक़ 2.38 किमी लम्बी है, जिसका निर्माण लक्ष्मीपुर व चावनपुर के बीच हुआ है। इसी तरह से एसआर 8 सडक़ रांझी, बिलपुरा, मोहनिया में बनी है, जिसकी लंबी 0.50 किमी है। परसवारा, पुरवा व अंधुआ के बीच एसआर 5 सडक़ बनी है, जिसकी लम्बाई 1 किमी है। इसके अलावा कछपुरा ओवरब्रिज से मदन महल रेलवे स्टेशन के बीच आधा किमी से ज्यादा लम्बी लिंक रोड का निर्माण किया गया है।

पगडंडी जैसा हाल
शहर की मौजूदा सडक़ों पर यातायात का जबर्दस्त दबाव है। बारिश के पहले इन सडक़ों की मरम्मत नहीं की गई। बरसात में इन सडक़ों के गड्ढे कई फीट लंबे, चौड़े हो गए। गोल बाजार, त्रिपुरी चौक से मदनमहल चौराहा होते हुए छोटी लाइन चौराहा, गढ़ा से झंडा चौक मार्ग, रानीताल चौराहा से चेतराम की मढिय़ा सडक़, धनवंतरि नगर चौराहा से साईं कालोनी सडक़ समेत शहर की ज्यादातर सडक़ें चलने लायक नहीं हैं।


प्राधिकरण की विकास योजनाओं को गति मिले व मास्टर प्लान में प्रस्तावित सडक़ों का निर्माण कार्य हो इस दिशा में आवश्यक कदम उठाएंगे।
बी. चंद्रशेखर, सम्भागायुक्त व पदेन अध्यक्ष जेडीए

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned