दलदल में फंसी एंबुलेंस, प्रसूता का हुआ यह हाल, देखें वीडियो

कटनी के भटगवां गांव में सामने आया मामला, कीचड़ से सनी सडक़

By: deepankar roy

Published: 24 Jul 2018, 05:33 PM IST

कटनी/जबलपुर। ग्रामीण अंचलों में सडक़ों और पहुंच मार्गों के क्या हाल हैं और इनके कारण लोगों को कितना कष्ट झेलना पड़ रहा है। इसका एक उदाहरण मंगलवार को सामने आया। यहां कटनी जिले के भटगवां गांव में प्रसूता को ले जा रही एक एम्बुलेंस दलदल में फंस गई। अंतत: प्रसूता और नवजात शिशु को बाइक पर घर तक ले जाना पड़ा।

कीचड़ के कारण नहीं जा पाई जननी
प्राप्त जानकारी के अनुसार स्लीमनाबाद से उमरियापान जाने वाले मार्ग पर डूंड़ी गांव से करीब 6 किलोमीटर दूर बसे भटगवां ग्राम निवासी जगराज सिंह की पत्नी रेशमा (20) को प्रसूति के लिए जिला उमरिया पान स्थित अस्पताल लाया गया था। प्रसव के बाद रेशमा को गांव वापस लौटना था। अस्पताल ने उसके लिए एम्बुलेंस का प्रबंध कराया। मंगलवार दोपहर एम्बुलेंस जैसे ही तिघरा और भटगवां गांव की बीच पहुंची, उसके पहिए कीचड़ में जाम हो गए। चालक जब अपने स्तर पर प्रयास करके हताश हो गया तो उसने प्रसूता के परिजनों को मदद के लिए कहा। अंतत: प्रसूता रेशमा के देवर कन्छेदी व अन्य लोग प्रसूता और नवजात शिशु को बाइक पर वापस घर तक ले गए। बताया गया है कि तिघरा से भटगवां तक करीब 2 किलो मीटर की कच्ची सडक़ की हालत बेहद दयनीय है। कीचड़ और गड्डों के कारण इस पर पैदल चलना भी मुश्किल हो रहा है। बारिश में आए दिन इस तरह की समस्याएं सामने आ रही हैं।

सड़क बनाने की कर रहे मांग
बताया जा रहा है कि ग्रामीण लंबे समय से सड़क बनाने की मांग कर रहे हैं। ग्रामीणो ंने बताया कि बारिश में इस सड़क से वाहनों का चलना मुश्किल हो जाता है। अगर कोई बीमार पड़ जाता है तो उसे बाइक से या पैदल खाट पर लेकर जाना पड़ता है। स्कूल और कॉलेज में पढऩे जाने वाले विद्यार्थी भी कीचड़ में काफी परेशान होते हैं। सड़क को पक्का करने के लिए जनप्रतिनिधियों से मांग की जा चुकी लेकिन केवल आश्वासन मिलता है।

 

deepankar roy Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned