alert : हो जाएं सावधान, शहर में बांग्लादेशी डकैत गिरोह का डेरा

गोकुलदास धर्मशाला से दबोचे गए संदेहियों से नकदी, जेवरात बरामद, कटनी डकैती में शामिल होने का संदेह

By: tarunendra chauhan

Published: 07 Jul 2019, 12:56 PM IST

जबलपुर. कटनी की दुबे कॉलोनी निवासी इंजीनियर शैलेष विश्वकर्मा (50) के घर गुरुवार की रात हुई डकैती के मामले में ऐसे संकेत हैं कि जबलपुर पुलिस जल्द कोई बड़ा खुलासा कर सकती है। शनिवार को गोकुलदास धर्मशाला से कुछ बांग्लादेशी युवकों को हिरासत में लिया है।

पुलिस सूत्रों की मानें तो इन युवकों के कटनी डकैती में शामिल होने की बात सामने आ रही है। संदेहियों को हिरासत में लिए जाने की सूचना पर कटनी पुलिस भी पूछताछ करने जबलपुर पहुंची है। इस गिरोह के जबलपुर की डकैती में शाामिल होने का भी शक है। जानकारी के अनुसार कटनी में डकैती की वारदात सामने आने के बाद जबलपुर क्राइम ब्रांच और साइबर सेल को कुछ क्लू मिले थे। कटनी पुलिस की छानबीन में भी ये बात सामने आई कि डकैत वारदात को अंजाम देने के बाद ट्रेन से फरार हुए हैं। उस समय कटनी से जबलपुर की ट्रेन निकली थी। इसके बाद यहां की क्राइम ब्रांच और साइबर सेल की टीम सक्रिय हुई। कटनी के सीसीटीवी फुटेज और जबलपुर स्टेशन के सीसीटीवी का मिलान किया गया। इसके बाद आसपास के होटल, सराय, धर्मशालाओं की चैकिंग की गई।

गोकुलदास धर्मशाला से दबोचे गए संदेही: क्राइम ब्रांच की टीम ने पुल नम्बर एक स्थित राजा गोकुलदास धर्मशाला में रुके संदेहियों को हिरासत में लिया। सभी बांग्लादेशी है। उनके पास से लूटपाट की रकम और जेवर भी जब्त होने की बात कही जा रही है।

ये थी घटना
कटनी निवासी इंजीनियर शैलेष विश्वकर्मा के घर में गुरुवार देर रात तीन से चार बजे के बीच आठ नकाबपोश डकैत पहुंचे थे। घरवालों को बंधक बनाकर एक लाख नकदी व जेवर आदि लूट कर फरार हुए थे।

सात टीमें जुटी जांच में
डकैती डालने के आरोपी सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे। आरोपियों को पकडऩे के लिए सात टीमें बनाईं गई हैं जो शहर सहित अन्य शहरों में बदमाशों की तलाश में जुटी हैं।

जांच टीम में ये अधिकारी शामिल
एसपी ललित शाक्यवार के निर्देशन व एएसपी संदीप मिश्रा के मार्गदर्शन में जांच टीमें गठित की गईं। टीम में सीएसपी कोतवाली टीआइ शैलेष मिश्रा, माधवनगर थाना प्रभारी संजय दुबे, एनकेजे थाना प्रभारी रोहित डोंगरे, मोबाइल सहित एसआइ, एएसआइ, हवलदार व आरक्षक शामिल हैं। एफएसएल, क्राइम ब्रांच, फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट, साइबर सेल आदि की भी मदद ली है। डकैतों की पतासाजी के लिए दो टीमें जबलपुर भी गई। इन टीमों ने रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड सहित शहर की मुख्य होटलों की तलाश की व होटल में ठहरने वाले लोगों की जांच पड़ताल की।
डकैती मामले की पतासाजी के लिए विशेष गठित की गई हैं। जबलपुर सहित अन्य शहरों के लिए टीम रवाना किया गया है।
- ललित शाक्यवार, एसपी, कटनी

कुछ संदेहियों को शहर के एक धर्मशाला से हिरासत में लिया गया है। संदेहियों से लगातार पूछताछ की जा रही है। कटनी पुलिस भी पूछताछ करने पहुंची है। जल्द ही बड़ा खुलासा होगा।
- अमित सिंह, एसपी, जबलपुर

Show More
tarunendra chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned