फेरीवालों से रहें सावधान ! मौका पाकर कर रहे हाथ साफ

शहर में गिरोह के दस्तक की आशंका, दोपहर को घर पहुंचते हैं चाबी बनवाने, मदनमहल, रानीताल के बाद गोरखपुर में वारदात, संगम कॉलोनी में पहुंचे संदिग्ध लेकिन लोगों की होशियारी से भाग निकले, पुलिस को दी सूचना लेकिन नहीं पहुंची खाकी

By: manoj Verma

Updated: 02 May 2019, 08:18 PM IST

जबलपुर। आप सुबह घर से अपने काम-धंधे पर निकल जाते हैं तो अपने परिजनों को अलर्ट करके जाएं कि वे किसी भी अजनबी कारीगर या खुद को एजेन्ट बताने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए अपना दरवाजा न खोलें। हो सकता है कि वह अजनबी आपकी मेहनत की कमाई पल भर में लूट कर ले जाए। जी, हां। यह हम नहीं बल्कि शहर में हुई वारदात बता रही हैं, जिसमें लोगों को लाखों रुपए का चूना लगा है। एक्सपोज पड़ताल में यह सामने आया है कि पुलिस एेसे लोगों को पकडऩा तो दूर इनकी टोह तक नहीं ले सकी है। अब पुलिस दावा कर रही है कि वे पुलिस को अलर्ट कर रहे हैं।
गर्मी बढ़ते ही सड़के सूनी होने लगी है। दोपहर में लोग अपने घरों से बाहर निकलते नहीं है, एेसे माहौल में संदिग्ध व्यक्तियों का एक गिरोह शहर में चाबी बनाने के नाम पर लोगों को ठग रहा है। इन संदिग्धों ने चाबी बनाने के नाम पर घर की आलमारी में सेंध लगाई और उससे लाखों रुपए पार कर दिए। पुलिस द्वारा जारी किए गए फुटेज में संदिग्धों की खुलासा होने के बाद एेसे व्यक्तियों की टोह मिलते संगम कॉलोनी में लोगों ने पुलिस को सूचना दी लेकिन पुलिस नहीं पहुंचने पर संदिग्ध हाथ से बाहर हो गए। यह ठग दो व्यक्तियों की संख्या में विभिन्न रहवासी क्षेत्रों में घूम रहे हैं। ये घूमते समय आलमारी, कवर्ड या फिर अन्य सामान की चाबी बनाने की पुकार लगाते रहते हैं। घर बैठे चाबी बनाने की लालच में घर में मौजूद महिलावर्ग झांसे में आ रहा है। सूनापन और महिलाओं का फायदा उठाकर अपनी चिकनीचुपड़ी बातों में ये ठग चाबी बनाते समय अपने जाल में फंसा लेते हैं और मौका मिलते ही आलमारी में रखे नकदी और जेवरात का सफाया कर रहे हैं।
ये हो चुकी है वारदात
- गेट नंबर चार के समीप एक घर में चाबी बनाने के बहाने दो अज्ञात व्यक्यिों ने घर में प्रवेश किया और आलमारी में रखे जेवरात साफ कर दिए।
- कालीमठ के भी घर में चाबी बनाने के बहाने आलमारी से जेवरात और नकद राशि पार कर दी। इस दौरान परिवार में अन्य लोग भी मौजूद थे।
- गोरखपुर में सुरेन्द्र सिंह के घर दो व्यक्ति चाबी बनाने आए। चाबी बनाते हुए इन्होंने आलमारी में रखे करीब पांच लाख के जेवरात साफ कर दिए।
पुलिस इंवेस्टीकेशन
पुलिस ने तीनों घटनाओं में ठगी का तरीका एक ही पाया है। दो व्यक्ति कांधे पर एक बैग लटकाकर पैदल चलते हैं। ये चाबी बनाने का दावा करते हैं। चाबी बनाने के लिए ये आलमारी घर से बाहर निकालकर देने की बात पर महिलाओं का विश्वास अर्जित करते हैं, बाद में उन्हें घर के अंदर प्रवेश मिल जाता है और चाबी बनाते समय वे लॉक के फंस जाने की बात करके औजार लाने की बात करके वे अपना बैग छोड़कर चले जाते हैं फिर बाद में वे नहीं लौटते हैं। इस बीच वे आलमारी में रखे जेवरात और नकद गायब कर देते हैं।
पुलिस ने जारी किए फुटेज
गोरखपुर की घटना के बाद पुलिस ने वारदात के समीप सीसीटीवी फुटेज खंगाले। फुटेज में दो व्यक्तियों का घर में प्रवेश करना रिकार्ड किया गया था। घर के अंदर के पुलिस को फुटेज नहीं मिल सके। पुलिस ने फुटेज जारी करके लोगों को सतर्क रहने की हिदायत दी है। पुलिस के सीसीटीवी फुटेज में हुलिया के मुताबिक दोनों व्यक्ति पंजाब राज्य के होना प्रतीत हो रहे हैं।
संगम कॉलोनी से पल भर में गायब
बुधवार की शाम करीब ४ बजे चाबी बनाने की पुकार लगाते हुए रहवासी क्षेत्रों में घूम रहे थे। दोनों व्यक्तियों में से एक व्यक्ति कांधे पर काले रंग का बैग लटकाया हुआ था। इन दोनों व्यक्तियों की नजर घरों पर थी। संदिग्ध व्यक्ति प्रतीत होने पर कॉलोनी के एक व्यक्ति ने दोनों को रोककर पूछताछ ही नहीं की बल्कि उनका वीडियो भी बनाया। पूछताछ में संदिग्धों ने खुद को इंदौर का होना बताया है। वे यहां बेड़े में आए हैं। पूछताछ होता देखकर संदिग्ध कुछ ही देर में वहां से गायब हो गए। लोगों ने इस मामले की सूचना उखरी पुलिस चौकी के दूरभाष नंबर ०७६१-२६७६३४६ पर देनी चाहिए लेकिन फोन खराब होने के वजह से पुलिस सं संपर्क नहीं हो सका। लोगों ने तत्काल इसकी सूचना ४.३६ बजे पुलिस कंट्रोल रूम दी, दूसरी ओर कंट्रोल रूम में मौजूद पुलिसकर्मी लेखराम ने संदिग्धों की प्रारंभिक जानकारी ली गई और कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। कॉलोनीवासियों का कहना है कि इस मामले की गंभीरता समझते हुए कॉलोनी के एक व्यक्ति ने उखरी चौकी पर पहुंचकर मौजूद एक हवलदार को बताया, जिस पर उन्हें उनकी तलाश करने का आश्वासन भी दिया गया था।
ये कहती है पुलिस
सूचना मिलने पर उखरी चौकी प्रभारी उमंग अग्रवाल को तुरंत जानकारी दी गई थी।
देवव्रत, कंट्रोल रूम कर्मी
हमने टीम के साथ क्षेत्र में दबिश दी लेकिन दोनों संदिग्धों का पता नहीं चल सका। हम इस तरह के अज्ञात लोगों की छानबीन कर रहे हैं।
उमंग अग्रवाल, प्रभारी, उखरी पुलिस चौकी
गर्मी में पुलिस को दिन के समय अलर्ट रहने कहा गया है। रहवासी क्षेत्रों में पेट्रोलिंग के साथ संदिग्धों पर नजर रखने कहा गया है। ठगी के मामले में फुटेज के आधार पर छानबीन की जा रही है।
राजेश त्रिपाठी, एएसपी (शहर)

manoj Verma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned