scriptbeautiful wedding saree, lehenga, jewellery with cheapest price in mp | शादी के लिए इस बाजार में मिलती हैं सबसे अच्छी साड़ी, लहंगा और ज्वेलरी | Patrika News

शादी के लिए इस बाजार में मिलती हैं सबसे अच्छी साड़ी, लहंगा और ज्वेलरी

ग्राहकों से खचाखच भरी रहती हैं दुकानें, रोजाना करोड़ों की बिक्री

 

 

जबलपुर

Published: April 19, 2022 10:29:42 am

जबलपुर। ऑनलाइन शॉङ्क्षपग और बढ़ती मॉल संस्कृति के बीच विवाह के लिए शहर का परंपरागत बाजार आज भी ग्राहकों की पसंद बना हुआ है। जबलपुर सहित आसपास के छह से ज्यादा जिलों के ग्राहक यहां पर खरीददारी के लिए आ रहे हैं। ऐसे में कारोबारियों के चेहरे भी खिल उठे हैं। कोरोना के कारण लगातार दो सालों से व्यापार डगमगा रहा था। लेकिन इस सीजन में इसमें भारी उछाल है। जून तक कारोबार 2 हजार करोड़ से ज्यादा का अनुमान है।

beautiful wedding saree
beautiful wedding saree

शादियों का सीजन: हर चीज की खूब हो रही बिक्री, 6 से ज्यादा जिलों से आ रहे ग्राहक
मॉल-शोरूम के जमाने में भी कायम शहर के परंपरागत बाजारों की रंगत

कारोबार के क्षेत्र में शहर लगातार आधुनिकता की चादर ओढ़ते जा रहा है। किराना, कपड़ा, ज्वेलरी, अनाज और तमाम तरह की सामग्री के स्टोर्स खुल चुके हैं। लेकिन बड़ा फुहारा, कमानिया गेट, लार्डगंज, कछियाना, सराफा, मुकादमगंज, लटकारी का पड़ाव अनाज मंडी और कोतवाली क्षेत्र में शादियों से जुड़े परंपरागत बाजार के कारोबार में कहीं पर भी कमी नहीं आई है। अब तो शहर में कई जगह इन चीजों के बड़े बाजार बन गए हैं। वहां भी खरीदी में बहुत ज्यादा कमी नहीं आई है।

साड़ी, अनाज, हैंडलूम आइटम, रेडीमेड गारमेंट, सोना चांदी के आभूषण, किराना सामग्री, मंडप में इस्तेमाल होने वाली चीजों के अलावा दूल्हा और दुल्हन के लिए सामग्री की खरीदी इन्हीं परंपरागत बाजारों से हो रही है। इसकी एक वजह यह है कि लोगों का पुराना विश्वास और उचित दामों में चीजें मिलना है। शादियों में होने वाले खर्च को देखते हुए कम बजट के कारण यह बाजार लोगों को सहूलियत भरा लगता है। उच्च, मध्यम और निम्न वर्ग सभी यहां से खरीदी करते हैं। इन क्षेत्रों में चिलचिलाती धूप में भी लोग खरीदी करते दिख जाते हैं। हालांकि बड़ी कंपनियों के स्टोर्स में भी कारोबार चल रहा है।

wedding_01.jpg

इन चीजों का बड़ा कारोबार
साड़ी और लहंगा- शहर में साडिय़ों का बड़ा कारोबार है। कारोबारी अखिलेश जैन ने बताया कि दो साल बाद ग्राहकी अच्छी हो रही है। शादी की ग्राहकी को देखते हुए बनारसी, जयपुरी और सूरत की साडिय़ों की बड़ी रेंज कारोबारी लेकर आए हैं। इसी प्रकार सूरत और बनारस के लहंगे की मांग भी बहुत अच्छी है। उपहार के लिए भी कई प्रकार की साडिय़ां बाजार में उपलब्ध हैं।

रेडीमेड गारमेंट- घर और रिश्तेदारी में शादी होने पर नए कपड़े की मांग लगभग हर घर में रहती है। इसलिए सलवार सूट, कुर्ता पैजामा, जींस पैंट, शर्ट, टी-शर्ट, सूट, शेरवानी और बचें के कपड़ों की खरीदी जमकर हो रही है। गारमेंट कारोबारी अमित मिनोचा का कहना है कि बाजार में ग्राहकों के लिए कई प्रकार की वेरायटी के कपड़े आए हैं। उनकी बिक्री भी हो रही है।

wedding_03.jpg

मंडल सामग्री- मंडल की सामग्री का परंपरागत बाजार में अच्छा उठाव है। पगड़ी, मंडप, साफा, भांवर की सामग्री, कलगी, मुकुट कटार, हार के अलावा पूजन सामग्री से जुड़ा कारोबार खूब चल रहा है। कारोबारी राजेश केशरवानी ने बताया कि कई डिजाइन एवं वेरायटी के साफा एवं पगड़ी लाई गई हैं। आजकल दुल्हा-दुल्हन के परिधान के रंगों से मिलती पगड़ी का चलन ज्यादा है।

आभूषण- बड़े ज्वेलरी स्टोर्स में तो ग्राहकी बनी है लेकिन सराफा बाजार में भी रौनक कम नहीं है। न केवल जबलपुर शहर बल्कि ग्रामीण इलाका और आसपास के जिलों के ग्राहक शादियों के लिए गहने खरीदने सराफा बाजार आ रहे हैं। उपनगरीय क्षेत्रो की दुकानों में भी खूब ग्राहकी है। कारेाबारी अनूप अग्रवाल ने बताया कि कारोबार के लिहाज से यह सीजन बेहतर है।

किराना-अनाज- शादियों में स्वरुचि भोज के लिए किराना के साथ् अनाज की खपत बहुत अधिक रहती है। पड़ाव की अनाज मंडी और मुकादमगंज में किराना के थोक बाजार में ग्राहकों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। किराना कारोबारी भीमलाल गुप्ता ने बताया कि यह बाजार किफायती है। लोगों का भरोसा लंबे समय से रहा है। इसलिए शादियों में खूब खरीदी होती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

पंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंद्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चAnother Front of Inflation : अडानी समूह इंडोनेशिया से खरीद राजस्थान पहुंचाएगा तीन गुना महंगा कोयला, जेब कटना तयसुकन्या समृद्धि योजना में सरकार ने किए बड़े बदलाव, जानें क्या है नए नियम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.