प्रदेश के इस शहर में हितग्राहियों को नहीं मिल रहा योजनाओं का लाभ, यह है वजह

सर्वे का काम सुस्त, पात्रता पर्ची भी बंद

जबलपुर। राशन कार्ड के सत्यापन का काम गति नहीं पकड़ पा रहा है। ऊपर से नए राशन कार्ड और पात्रता पर्ची का काम भी ठप पड़ा है। ऐसे में जिले में हितग्राहियों की मुसीबत बढ़ रही हैं। सैकड़ों शिकायतें खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग में पहुंच रही हैं। चूंकि गरीबी रेखा कार्ड के आधार पर कई योजनाओं का लाभ मिलता है। ऐसे में लोगों के काम अटक रहे हैं। जिले में पात्र और अपात्र राशन कार्डधारियों का सत्यापन किया जा रहा है। नगर निगम और ग्रामीण क्षेत्रों में गठित दल यह काम कर रहे हैं।

नहीं बन रहे राशन कार्ड
अभी रोजाना लोकसेवा केंद्र एवं सीधे तहसील कार्यालयों में बड़ी संख्या में राशन कार्ड के लिए आवेदन पहुंच रहे हैं, लेकिन इन्हें बनाया नहीं जा रहा है। आवेदकों को बताया जा रहा है कि जब तक सत्यापन का काम पूरा नहीं होता, राशन कार्ड की प्रक्रिया भी पूरी नहीं हो पाएगी। यही स्थिति पात्रता पर्ची को लेकर है।

47 फीसदी ही सत्यापन
जिले में 47 फीसदी परिवारों का सत्यापन हो सका है। दो हजार 104 दल 4 लाख 2 हजार 255 परिवारों के राशन कार्ड सत्यापित करेंगे। अभी की स्थिति में 1 लाख 85 हजार 286 कार्ड का सत्यापन हो पाया है। सबसे ज्यादा खराब स्थिति नगर निगम सीमा क्षेत्र की है। नगर निगम की सीमा में 1 लाख 67 हजार 121 परिवारों के राशन कार्ड के सत्यापन का लक्ष्य है। इसमें अब तक महज 32 हजार 400 कार्ड ही सत्यापित हो सके हैं।

जिले में राशन कार्ड का सत्यापन का काम चल रहा है। इस काम के कारण नए राशन कार्ड नहीं बनाए जा रहे हैं। नई पात्रता पर्ची भी शासन स्तर पर तैयार हो रही है। सत्यापन के बाद जो परिवार अपात्र होंगे उनकी जगह नए आवेदकों के कार्ड बनाए जाएंगे।
एमएनएच खान, जिला आपूर्ति अधिकारी

reetesh pyasi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned