बिना इनके कोई फिल्म नहीं होती हिट, इस शहर के हैं दीवाने

deepak deewan

Publish: Feb, 15 2018 11:33:44 AM (IST)

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
बिना इनके कोई फिल्म नहीं होती हिट, इस शहर के हैं दीवाने

पहले कंट्रोवर्सी फिल्मों के लिए दर्शक खींच लाती थी, लेकिन अब स्थिति बदल चुकी है, अब फिल्म खुद बोलती है।

जबलपुर . कोई फिल्म हिट है या फ्लाप , यह बाक्स आफिस पर उसके प्रदर्शन से तय होता है। बाक्स आफिस पर किस फिल्म ने कितनी कमाई की यह ट्रेड एनालिस्ट बताते हैं। बालीवुड के ट्रेड एनालिस्ट में तरण आदर्श का नाम अग्रणी है। ये मशहूर मूवी क्रिटिक और ट्रेड एनालिस्ट जब जबलपुर आए तो इसकी सुंदरता के कायल हो गए। उन्होंने कहा- शहर की हरियाली, ताजी हवा और कई सारी खूबसूरत लोकेशंस देखकर मैं बहुत खुश हूं और इस बात पर बेहद गर्व महसूस कर रहा हूं कि नियाग्रा फॉल की टक्कर का कोई फॉल है तो वह है धुआंधार। तरन आदर्श शहर की लोकेशन और डेस्टिनेशंस देखने कुछ दिनों के लिए जबलपुर आए हुए हैं। अपने अनुभव बताते हुए उन्होंने धुआंधार को सबसे आकर्षक लोकेशन बताया, साथ ही अपने काम और अन्य बातों को साझा किया।


कंट्रोवर्सी केवल पहले शो तक
एक जमाना था, जब कंट्रोवर्सी फिल्मों के लिए दर्शक खींच लाती थी, लेकिन अब स्थिति बदल चुकी है। अब फिल्म खुद बोलती है। यदि वह अच्छी है तो दर्शक आएंगे और अगर नहीं है तो पहला शो ही भविष्य तय कर देता है।


अब नहीं सताते ट्रोल्स
एक आलोचक को अच्छे और बुरे दोनों अनुभव मिलते हैं। तरन बताते हैं कि पिता ने एक बार उनसे कहा था कि अगर तुम्हें गर्मी का सामना करने में परेशानी है तो किचन में कभी मत जाना। पहले जब लिखता था और उस पर कोई प्रतिक्रिया आती थी तो अपसेट हो जाता था, लेकिन अब सोशल मीडिया के जरिए एक्सेप्टेंस काफी बढ़ गया है, क्योंकि हम हर किसी को खुश नहीं कर सकते।


बचपन से थी फिल्मों की दीवानगी
तरन ने बताया कि उन्हें बचपन से ही फिल्में देखने का बहुत शौक था, लिखते भी थे। अमिताभ बच्चन की फिल्म अभिमान के एक दिन में तीन शो लगातार देखे थे। समय बीता और पढ़ाई के साथ पिता की मैगजीन की बागडोर संभाली। आज बॉलीवुड की कोई भी फिल्म उनके क्रिटिक व्यू और ट्रेड एनालिस्ट के बिना नहीं रहती।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned