एएसआइ की प्रताडऩा से बिल्डर ने की आत्महत्या

गोहलपुर थाना क्षेत्र की घटना, सुसाइड नोट में लिखा एएसआइ सहित अन्य के नाम, घरवालों ने किया प्रदर्शन, उधर, तिलवारा थाने मेेें दो पटवारियों पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का प्रकरण दर्ज

By: santosh singh

Published: 10 Apr 2019, 08:46 AM IST

जबलपुर. अधारताल थानांतर्गत न्यू अमखेरा निवासी 55 वर्षीय बिल्डर ने एएसआइ की प्रताडऩा से तंग आकर आत्महत्या कर ली। उसके पास से पुलिस को सुसाइड नोट मिला है। उसमें उसने एएसआइ सहित अन्य लोगों के नाम लिखे हैं। ये उसे आठ साल से प्रताडि़त कर रहे थे। सुसाइड नोट में लिखा है कि वह इतना टूट चुका है कि अब और नहीं झेल सकता। घटना को लेकर परिजन ने निजी अस्पताल में हंगामा भी किया। वे बड़ी संख्या में थाने भी पहुंचे और एएसआइ सहित सभी आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने की मांग की।
दबाव बनाकर ब्लैंक चेक ले लिया था
जानकारी के अनुसार बद्री प्रसाद प्रजापति (55) बिल्डर का काम करते थे। आठ साल से उन्हें गोहलपुर थाने में पदस्थ एएसआइ विनोद पटेल, बधैया मोहल्ला निवासी राजीव पटेल, अधारताल निवासी बबलू ठाकुर सहित अन्य लोग पैसों को लेकर प्रताडि़त कर रहे थे। अलग-अलग लोग उस पर तीन लाख से लेकर 20 लाख रुपए का बकाया बता रहे थे। बद्री प्रसाद को पिछले महीने भर से ज्यादा प्रताडि़त किया जा रहा था। बेटे विक्की व धनराज प्रजापति ने बताया कि दोपहर में उन्होंने जहरीला पदार्थ खा लिया। तीन बजे उल्टी होने पर परिजन को खबर लगी। इसके बाद उन्हें निजी अस्पताल ले गए। इलाज के दौरान मौत हो गई।
घरवालों ने किया अस्पताल में हंगामा
इसके बाद परिजन ने निजी अस्पताल में हंगामा किया। मौके पर अधारताल पुलिस पहुंची और कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद परिजन शांत हुए। परिवार के लोगों ने सुसाइड नोट में दर्ज सभी आरोपियों के खिलाफ प्रताडि़त करने को लेकर प्रकरण दर्ज करने की मांग की है। मामले में एसपी ने भी एएसपी को जांच के निर्देश दिए हैं।
उधर, दो पटवारियों पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का प्रकरण दर्ज
बरगी हिल्स तिलवारा निवासी विकलांग पटवारी शुभम स्वर्णकार (28) ने वरिष्ठों की प्रताडऩा से तंग आकर की तिलवारा में छलांग लगाई थी। महीने भर बाद तिलवारा पुलिस ने प्रकरण में अनूपपुर की जैतहरी तहसील में पदस्थ दो वरिष्ठ पटवारी सहित अन्य के खिलाफ धारा 306 का प्रकरण दर्ज कर लिया है।
04 मार्च को नर्मदा में छलांग लगा कर ली थी आत्महत्या
पुलिस के अनुसार नया बरगी हिल्स तिलवारा निवासी एवं सिंचाई विभाग में उपयंत्री प्रकाश चंद स्वर्णकार के तीन बेटों में दूसरे नम्बर का शुभम स्वर्णकार (28) अनूपपुर की जैतहरी तहसील में पटवारी था। पोलियो के चलते उसे चलने में कठिनाई होती थी। चार मार्च को वह घर से बाइक लेकर निकला, फिर नहीं लौटा। रात 10.30 बजे परिजन उसे तलाशते हुए तिलवारा पहुंचे तो घाट पर उसकी बाइक, बैग मिले। अगले दिन उसकी लाश मिली थी। उसके बैग से पुलिस ने सुसाइड नोट जब्त किया था। उसमें उसने वरिष्ठ पटवारियों डमरू पटेल, संजय मिश्रा सहित अन्य पर प्रताडि़त करने और बात-बात पर अपमानित करने का आरोप लगाया था।

 

santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned