अरे...यहां तो नहर को ही बांध देते हैं लोग

अरे...यहां तो नहर को ही बांध देते हैं लोग
canal shackled to stop water

Jabalpur Online | Updated: 17 Sep 2015, 04:07:00 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

खम्हरिया मुख्य नहर का मामला, एक दर्जन गांव के किसान परेशान, नहर को बांधकर रोक रहे पानी

जबलपुर। खम्हरिया मुख्य नहर के गेट के पास पत्थरों से बांधकर पानी रोका जा रहा है। पत्थर लगने से नहर में आगे पानी बढ़ ही नहीं रहा। पानी नहीं मिलने से मझगवां क्षेत्र के करीब एक दर्जन गांव के किसान परेशान हैं। मामला मझगवां क्षेत्र की खम्हरिया नगर के गेट नंबर एक का है। हालात ये हैं करीब सात सौ एकड़ का रकबे में लगी धान की फसल सूखने की कगार पर पहुंच गई है। ऐसे में आए दिन लड़ाई-झगड़े की स्थिति बन रही है।
पानी को पत्थरों से बांध दिया
जानकारी के अनुसार बरगी दायीं तट नहर से खम्हरिया मुख्य नहर निकली है। इस नहर से मझगवां क्षेत्र का करीब 11 हेक्टेयर का रकबा सिंचित होता है। कुम्ही खुर्द से करीब दो किलोमीटर आगे मुख्य नगर के गेट नंबर 1 के पास नहर के पानी को पत्थरों से बांध दिया गया है। जिसके कारण पानी का लेबिल लगातार कम हो गया। ऐसे में गेट नंबर 2, 3 और 4 में पानी नहीं पहुंच रहा। इसके कारण खम्हरिया, प्रतातपुर, सरौली, भीखाखेड़ा, नुंजी, नुजा, देवरी, पड़रिया सहित एक दर्जन गांव के खेतों में लगी धान की फसल सूखने लगी है।
किसानों ने सहायक यंत्री से की शिकायत
किसान सहदेव  पटेल, जुगल पटेल, श्याम बरन, राजू, महेश ने नर्मदा विकास संभाग क्रमांक 4 के सहायक यंत्री से खेतों में पानी नहीं पहुंचने की शिकायत की। किसानों का आरोप था कि मुख्य नहर से छोड़े जाने वाले पानी को बीच में ही पत्थरों से बांध दिया जाता है। ऐसे में सब माइनर में पानी ही नहीं आ रहा। खेतों में लगी धान की फसलें सूखने की कगार पर पहुंच गई हैं।
मुख्य नहर से कम छोड़ रहे पानी
किसानों ने ये भी बताया कि खम्हरिया माइनर में मुख्य नहर से कम पानी छोड़ा जा रहा है। जिसके कारण सब माइनर में पानी नहीं आ रहा। दूसरी तरफ खम्हरिया माइनर में जैसे ही पानी आता है, उसे पत्थरों से बांधकर रोक लिया जाता है। ऐसे में हम लोग क्या करें। विभाग मुख्य नहर में तेजी से पानी छोड़े तो ऐसी स्थिति नहीं बनेगी।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned